20 May 2024, 18:57:50 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
zara hatke

मां-बाप ने डाटा तो लड़के ने गुस्से में लगातार 6 साल किया ऐसा काम, रह जाएंगे हैरान

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 17 2024 6:33PM | Updated Date: Apr 17 2024 6:33PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मां-बाप की डांट के बाद अक्सर बच्चों का रूठ जाना सामान्य बात है। ऐसे में या तो पैरंट्स उन्हें मना लेते हैं या फिर कुछ वक्त बाद बच्चों का गुस्सा अपने आप ही शांत हो जाता है। लेकिन एक बच्चे का गुस्सा इससे ठंडा नहीं हुआ। मां- बाप की डांट से गुस्साए बच्चे ने दादा की कुदाल उठाकर घर के पीछे बने बगीचे में खुदाई कर अपना खुद का घर बनाना शुरू किया। ऐसा उसने लगातार 6 साल तक किया और आखिर वह जमीन के नीचे प्राकृतिक तरीके से अपने लिए 2 कमरे बनाने में कामयाब रहा, जहां वह किसी की रोक-टोक के बिना आराम से रह सकता है। 

डेली मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक इस बच्चे का नाम एंड्रेस कैंटो (Andres Canto) है। वह ब्रिटेन में एक गांव में अपने पैरंट्स के साथ रहता है। रिपोर्ट के मुताबिक जब वह 14 साल का था तो एक दिन उसने ट्रैकसूट पहनकर गांव में घूमने की जिद की। इस पर एंड्रेस के पैरंट्स ने उसे डांट दिया और ऐसा न करने को कहा। इस बात से एंड्रेस भड़क गया। वह कुछ देर तक चुप बैठा रहा। इसके बाद उसने घर में रखी अपने दादा की कुदाल उठाई और घर के पीछे बने बगीचे में जाकर खुदाई करने लगा। 

कुछ देर तक जमीन खोदने के बाद जब वह थक गया तो वापस आ गया लेकिन इससे उसका गुस्सा शांत नहीं हो पाया था। अब वह स्कूल से घर आता तो कुदाल उठाकर पीछे जाता और उसी जगह पर खुदाई करने लगता। शुरुआत में पैरंट्स ने उसे समझाना चाहा लेकिन जब वह नहीं माना तो उन्होंने हार मान ली। वहीं एंड्रेस का गुस्सा धीरे- धीरे जुनून में बदल गया था। उसने लगातार खुदाई करके करके करीब 10 फुट तक मिट्टी खोद ली थी। 

उसे इस काम में स्कूली दोस्त आंद्रे (Andreu) का भी साथ मिल गया था। दोनों दोस्त घर आने के बाद रोजाना 2 घंटे गड्डे की खुदाई करते। उन्होंने नीचे जाने के लिए मिट्टी से सीढ़िया तैयार कर लीं। साथ ही कुछ पैसे खर्च करके बल्ली और मजबूत लकड़ी का इंतजाम कर छत बना ली, जिससे ऊपर की मिट्टी नीचे न धंस सके। करीब 6 साल तक खुदाई के बाद एंड्रेस ने 2021 में भूमिगत गुफा तैयार कर उसमें एक बेडरूम और एक लिविंग रूम तैयार कर लिया। 

इस भूमिगत गुफा में सीड़ियों के जरिए पहुंचा जा सकता है। उस वक्त 14 साल के रहे एंड्रेस अब 22 साल के युवक बन चुके हैं और ब्रिटिश फिल्म इंडस्ट्री में काम कर रहे हैं। वे अब अपनी इस विचित्र हरकत पर मुस्कराते हुए कहते हैं कि उन्हें अंदाजा नहीं था कि गुस्सा होने पर उन्हें खुदाई का ही विचार क्यों आया। हालांकि इस काम से मुझे कुछ क्रिएटिव करने और अपने आप को शांत करने में काफी मदद मिली। 

एंड्रेस बताते हैं कि जमीन में खुदाई से निकली मिट्टी को बाहर निकालने के लिए उन्होंने बाल्टी का इस्तेमाल किया। इसकी वजह से उन्हें काफी परेशानियां हुईं और उनका शरीर दर्द करने लगा था। इसके बावजूद उन्होंने यह काम करना नहीं छोड़ा। वे कहते हैं कि गुस्से में शुरू किया गया ये काम अब मजेदार प्रोजेक्ट बन गया है। वे अपनी इस भूमिगत गुफा का अभी और विस्तार करेंगे। फिलहाल इसमें 2 कमरे, एक हीटिंग सिस्टम, वाई फाई सिस्टम और एक म्यूजिक सिस्टम है। मैं इसमें कुछ और नई चीजें जोड़ने की सोच रहा हूं।

वे बताते हैं कि मैं शुरू से गांव में रहा हूं और मुझे वहां का शांत वातावरण बहुत पसंद है। गांव में पेड़ पौधे भी खूब होते हैं। मुझे जब भी वहां पर कोई छोटी लकड़ी मिलती थी तो मैं उससे घर बनाने लग जाता था। मेरा वह शौक अब भी कायम है। ऐसा करने पर मेरे अंदर का बच्चा जाग जाता है, जिससे मुझे बहुत खुशी मिलती है। मेरे पास बहुत सारी कल्पनाएं हैं, जिन्हें पूरा करना चाहता हूं। 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »