28 Feb 2024, 14:24:31 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
zara hatke

23 साल के लड़के ने 91 साल की महिला से रचा ली शादी, अब कर रहा अनोखी डिमांड

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 2 2023 5:41PM | Updated Date: Nov 2 2023 5:41PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया के जरिए अजब-गजब रिश्तों पर काफी कुछ सुनने और पढ़ने को मिल रहा है। किसी ने गोद लिए बेटे से शादी कर ली, तो किसी ने सौतेले पिता को ही हमसफर चुन लिया। अब अर्जेंटीना से कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है, जिसके बारे में जानकर लोग दंग रह गए। यहां 23 साल के एक युवक ने अपनी ही 91 वर्षीय चाची से ब्याह रचा लिया। लेकिन अजीब-सी इस ‘लव स्टोरी’ में एक ट्विस्ट भी है। आइए जानते हैं कि वो क्या है।

91 वर्षीय योलान्डा टोरेस अब इस दुनिया में नहीं हैं। वहीं, 23 साल के मॉरिसियो ओसोला पेशे से वकील हैं। उन्होंने अब उनकी पेंशन पर दावा ठोका है। उसका कहना है कि उन दोनों ने साल 2015 के फरवरी में शादी कर ली थी। लेकिन एक साल बाद ही अप्रैल में योलान्डा की मौत हो गई। ऐसे में अब वो उनके पेंशन का हकदार है। हालांकि, प्रशासन ने उसकी अर्जी तब खारिज कर दी, जब पड़ोसियों ने कहा कि मॉरिसियो ने शादी की झूठी कहानी गढ़ी है। अब आइए जानते हैं कि आखिर ये शादी हुई भी तो हुई कैसे।

मिरर के अनुसार, 2009 में मॉरिसियो के पैरेंट्स में अनबन के बाद तलाक हो गया। इसके बाद मॉरिसियो अपनी मां, बहन, दादी और चाची के साथ रहने लगे। वे अपनी चाची की मौत के बाद से यानी 2016 से ही पेंशन पर अपनी दावेदारी की लड़ाई लड़ रहे हैं।

मॉरिसियो की दावेदारी पर अधिकारियों ने जांच शुरू की, तो उन्होंने नाते-रिश्तेदारों के अलावा उनके पड़ोसियों से भी पूछताछ की। कथित तौर पर पड़ोसियों का कहना था कि उन्हें इस अजीब शादी के बारे में कोई जानकारी नहीं है। कुछ ने तो यह तक कहा कि मॉरिसियो ने सिर्फ पेंशन के पैसों के लिए यह झूठी कहानी सुनाई है। हालांकि, मॉरिसियो का कहना है कि वह पेंशन हासिल करके ही रहेंगे। इसे साबित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ही क्यों न जाना पड़े।

मॉरिसियो की मानें, तो उनकी चाची ही चाहती थीं कि वे उनसे शादी कर लें। उन्होंने बताया कि ये उनकी चाची की आखिरी इच्छा थी। उन्होंने कहा, ‘वो मेरी लाइफ में बड़ा सहारा थीं। मैं उन्हें बहुत प्यार करता था। उनके जाने का गम मुझे ताउम्र रहेगा।’ उनका कहना है कि माता-पिता के अलग होने के बाद वे पढ़ाई छोड़ना चाहते थे। लेकिन योलान्डा ने ही उनकी लॉ की पढ़ाई का पूरा खर्च उठाया। इसके बाद दोनों ने शादी का फैसला कर लिया।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »