30 Jul 2021, 22:06:16 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

उत्तराखंड में नेपाली मूल के लोगों को वैक्सीन लगाने का रास्ता साफ, केन्द्र ने दी मंजूरी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 20 2021 4:31PM | Updated Date: Jun 20 2021 4:31PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नैनीताल। उत्तराखंड में नेपाली मूल के लोगों को कोरोना टीका लगाये जाने का रास्ता साफ हो गया है। केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार को इसके लिये मंजूरी दे दी है। अब नेपाली लोग बिना पहचान पत्र के कोरोना टीका लगा सकेंगे। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, उत्तराखंड के निदेशक की ओर से इस आशय का एक पत्र शनिवार को जारी किया गया है। राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. केएस मर्तोलिया की ओर से भेजे गये पत्र में कहा गया है कि केन्द्र सरकार की ओर इस संबंध में मंजूरी मिल गयी है। प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों (सीएमओ) को प्रेषित पत्र में कहा गया है कि बिना पहचान पत्र के भी नेपाली मूल के लोग वैक्सीन लगा सकेंगे। 
 
पत्र में कहा गया है कि केन्द्र सरकार की ओर से कल भेजी गयी मेल में कहा गया है कि नेपाली मूल के लोगों को वैक्सीन केन्द्र सरकार की ओर से छह मई को जारी पत्र और जारी मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अनुसार लगायी जा सकेगी। जिसमें प्रदेश में उन लोगों को वैक्सीन लगाये जाने का उल्लेख है जिनके पास कोविन पोर्टल पर पंजीकरण कराने के लिये पहचान पत्र (आईडी कार्ड) उपलब्ध नहीं हैं। इससे साफ है कि अब नेपाली लोग बिना आधार कार्ड एवं पहचान पत्र के वैक्सीन लगा सकेंगे। उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने भी इस मामले का संज्ञान लेते हुए जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए विगत 19 मई को राज्य सरकार से जवाब मांगा था। इसके बाद उत्तराखंड राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की ओर से 16 अप्रैल को केन्द्र सरकार को इस संबंध में एक पत्र भेजा गया था। उसी के क्रम में केन्द्र की ओर से अनुमति दी गयी है। चंपावत के सीएमओ डॉ. आर.पी. खंडूरी ने इसकी पुष्टि करते हुए केन्द्र सरकार के इस कदम की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से जंग में सभी का टीकाकरण आवश्यक है।    
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »