28 Nov 2021, 14:17:21 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

तृणमूल राज्यसभा सांसद सुष्मिता देव पर त्रिपुरा में हमला

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 22 2021 5:49PM | Updated Date: Oct 22 2021 8:39PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

अगरतला। त्रिपुरा में  आगामी शहरी निकाय चुनावों के मद्देनजर  लोगों से संपर्क बनाने के तृणमूल कांग्रेस के दो हफ्तों की अवधि वाले कार्यक्रम के पहले दिन दक्षिणी अगरतला के अमताली क्षेत्र में शुक्रवार को तृणमूल राज्य सभा सांसद सुष्मिता देव पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर हमला किया।
 
त्रिपुरा में सिर्फ इसी काम के लिए पार्टी ने कुछ वाहनों को विशेष तरीके से सजा कर  भेजा था और इन पर पार्टी का रंग तथा निशान बना  हुआ था । इस हमले में वाहनों को नुकसान पहुंचाया गया और सुदेव के अलावा दो अन्य पार्टी नेता भी घायल हुए हैं।
  
उन्होंने अमताली पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई प्राथमिकी में कहा ‘‘ भाजपा के गुंडोंं ने अगरतला के अमताली बाजार के  साबरोम राष्ट्रीय राजमार्ग पर दिन दिहाड़े लगभग 11.30 बजे खतरनाक हथियारों से बुरी तरह से हमला कर हमारे वाहनों को नष्ट कर दिया । उन्होंने हमारे पर पत्थर भी फेंके लेकिन हम इस घातक हमले से बच गए जो हमें मारने के इरादे से किया गया था मगर  हमारे वाहन पूरी तरह से नष्ट हो गए हैं और हम भी इस हमले में घायल हुए हैं।’’   इसके बाद उन्होंने मीडिया से कहा‘‘ पुलिस ने हमें बाजार से आकर बचाया और उनका दावा  है कि हमलावरों के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है। हम जानते हैं कि त्रिपुरा में लोगों के तृणमूल को दिए जा रहे समर्थन से  भाजपा डर गई है और वह सरकार को उखाड़ फेंकने  के बहुत नजदीक है। 
 
मैं मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब से प्रार्थना करती हूं कि अगर आप में दम है तो कृप्या  अगले माह होने वाले इन चुनावों में निष्पक्ष तरीके से आकर हमारा मुकाबला करिए, लेकिन इस तरह के कायराना, वहशी तथा अलोकतांत्रिक हमलों को रोकिए।’’   उन्होंने यह भी कहा ‘‘ बंगाल में तृणमूल की लोकप्रियता से घबरा कर भाजपा इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रही है और इस बात के स्पष्ट संकेत मिल रहे हैं कि तृणमूल वर्ष 2023 के विधानसभा चुनावों में भाजपा को सत्ता से बेदखल कर देगी तथा इसकी शुरूआत स्थानीय शहरी निकायों के चुनावों से होगी।  देब हिेंसा और आतंक का सहारा लेकर तृणमूल को विजयी होने से नहीं रोक सकते हैं।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »