26 May 2020, 04:24:10 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Other Sports

हरियाणा के स्टेडियमों में मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और आरोग्य सेतु ऐप होगा अनिवार्य

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 20 2020 2:25PM | Updated Date: May 20 2020 2:25PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

गुरुग्राम। हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह ने कहा है कि कोविड-19 की रोकथाम के मद्देनजर भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार राज्य के खेल परिसरों और स्टेडियमों को खोलने की अनुमति दे दी गई है जिसमें खिलाड़ियों और कर्मचारियों को मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा।

आरोग्य सेतु ऐप का उपयोग करना अनिवार्य

संदीप ने मंगलवार को चंडीगढ़ में बताया कि स्टेडियमों में दर्शकों को आने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी खेल कर्मचारियों और खिलाड़ियों के लिए आरोग्य सेतु का उपयोग करना अनिवार्य किया गया है। खेल विभाग के भवनों में पीडब्ल्यूडी द्वारा एयर-कंडीशनर के उपयोग के सम्बंध में जारी निर्देश का सख्ती से पालन किया जाएगा। खेल विभाग नॉन कांटेक्ट थर्मामीटर से स्वास्थ्य जांच का प्रावधान सुनिश्चित करेगा और इस तरह की स्क्रीनिंग का रिकॉर्ड रखा जाएगा।

स्टेडियमों के प्रवेश द्वार पर हैंड-सैनिटाइजर उपलब्ध कराए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सैनिटाइजर किसी भी अन्य सेंसर आधारित सैनिटाइजर को सभी खेल केंद्रों के अलावा चिकित्सा केंद्र, डाइनिंग हॉल/मेस और अन्य प्रवेश बिंदुओं पर रखा जाएगा। व्यक्तिगत उपकरण जैसे धनुष, बंदूक, तलवार, भाला, डिस्कस, रैकेट आदि का बिना साझा किए उपयोग किया जाएगा और हरेक को उपयोग के बाद सैनिटाइज किया जाएगा।

योग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा 

खेल के विशिष्ट सुरक्षा उपकरण जैसे हेलमेट, आई प्रोटेक्टर, फेस प्रोटेक्टर आदि साझा नहीं किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण गतिविधियों को छोटे समूहों में किया जा सकता है। एथलीटों को उन खेल-अभ्यासों से बचना चाहिए जिनसे शारीरिक संपर्क होता है। प्रशिक्षुओं को इस अवधि के दौरान फ्री-हैंड अभ्यास करने और बड़े पैमाने पर योग करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

टीम-स्पर्धाओं के मामले में किसी मैदान में एक घंटे के लिए 18 खिलाड़ी और दो कोच मौजूद रहेंगे और उनके जाने के बाद ही दूसरे समूह को अंदर लाया जा सकता है। व्यक्तिगत स्पर्धाओं के मामले में कोच एक बार में 10 खिलाड़ियों को कोचिंग दे सकता है और दूसरे समूह को पहले समूह के जाने के बाद ही स्टेडियम में आने की अनुमति होगी।

खेल मंत्री ने बताया कि प्रत्येक कमरे में सभी चिकित्सा-कक्ष के फर्नीचर को सुबह 8.30 बजे से पहले और फिर एक बार सुबह 11 बजे सैनिटाइज किया जाएगा। खेल-केंद्र में वितरित किए जाने वाले पैक्ड-भोजन/ ताजे फल आदि की आपूर्ति उपयोग से 24 घंटे पहले तक तथा कार्डबोर्ड पैकिंग 72 घंटे की अवधि के लिए एक खुले क्षेत्र में रखे जाएंगे। फलों और सब्जियों को कुछ घंटों के लिए पतला सिरका, नमक या नींबू पानी में भिगोया जा सकता है और खाने से पहले सूखने के लिए छोड़ दिया जाना चाहिए।

अभी स्वीमिंग-पूल को किसी भी परिस्थिति में नहीं खोला जाएगा। उन्होंने सभी खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों और विभाग के कर्मचारियों को अपने शरीर की प्रतिरोधक क्षमता मजबूत करने का आह्वान करते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में प्रशिक्षकों को खिलाड़ियों का ट्रेनिंग-प्रोग्राम बनाने से पहले गर्मी के तापमान को ध्यान में अवश्य रखना चाहिए। 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »