21 May 2022, 14:08:58 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

इंडिया में बढ़ा क्रिप्टोकरेंसी का क्रेज, WazirX पर ट्रेडिंग वॉल्यूम तेजी से बढ़ा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 16 2021 4:40PM | Updated Date: Dec 16 2021 4:41PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। क्रिप्टोकरंसी के ऊंचे रिटर्न को देखते हुए अब भारत में भी इसका क्रेज बढ़ने लगा है। देश के सबसे बड़े क्रिप्टो एक्सचेंज WazirX ने जानकारी दी है कि एक्सचेंज के जरिये ट्रेडिंग वॉल्यूम एक साल में 18 गुना से ज्यादा बढ़ गया है। इसके साथ ही एक्सचेंज पर यूजर साइनअप में तेज उछाल देखने को मिला है और यूजर बेस बढ़ कर 1 करोड़ तक पहुंच गया है। WazirX का ट्रेडिंग वॉल्यूम बढ़कर 43 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया है।यानि साल भर के दौरान एक्सचेंज के जरिये इतनी मूल्य के खरीद और बिक्री के सौदे किये गये। 2020 के मुकाबले यह 1735 प्रतिशत की ग्रोथ है। एक्सचेंज पर सबसे ज्यादा सौदे बिटक्वाइन में किये गये। इसके साथ ही टीथर (यूएसडीटी), शिबा, डॉजक्वाइन, वजीरएक्स टोकन, मेटिक में भी बड़ी संख्या में सौदे किये जा रहे हैं। जिस तरफ शेयर में कारोबार करने के लिये स्टॉक एक्सचेंज की जरूरत होती है वैसे ही क्रिप्टोकरंसी को खरीदने या बेचने के लिये क्रिप्टो एक्सचेंज की जरूरत होती हैं। यहां ग्राहक को डिजिटल क्रिप्टो वॉलेट की सुविधा दी जाती है। जिसकी मदद से ग्राहक क्रिप्टो करेंसी को खरीद या बेच सकते हैं। वजीरएक्स ऐसा ही एक क्रिप्टो एक्सचेंज है।

क्रिप्टोकरंसी को खरीदने के लिये निवेशक को किसी भरोसेमंद एक्सचेंज का एप डाउनलोड करना होगा या फिर एक्सचेंज की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंचना होगा। एप या वेबसाइट की मदद से आपको डिजिटल क्रिप्टो वॉलेट बनाना होगा जिसके साथ आपको यूनिक वॉलेट आईडी मिलेगी। बैंक अकाउंट की ही तरफ आपको अपना केवाईसी पूरा करना होगा। जिसमें आपके आधार कार्ड, पैन कार्ड आदि जानकारियां ली जायेंगी। केवाईसी पूरा करने के साथ आपका क्रिप्टो अकाउंट बन जायेगा और आप उसमें रकम ट्रांसफर कर सकते हैं। इसके बाद एक्सचेंज द्वारा लेन देन के लिये ऑफर की जा रही क्रिप्टोकरंसी को खरीद सकते हैं इसके लिये भुगतान एनईएफटी, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड के जरिये किया जा सकता है।
 
क्रिप्टोकरंसी की सबसे बड़ी खासियत ही इसका सबसे बड़ा जोखिम है। दरअसल क्रिप्टो की लेन देन में भुगतान करने वाला या भुगतान पाने वाले के अलावा कोई तीसरा नहीं होता है। ऐसे में किसी भी तरह के मध्यस्थता की संभावना खत्म हो जाती है। ऐसे में लेन देन में किसी भी गलती का बड़ा नुकसान उठाना पड़ता है। वहीं किसी नियामक के न होने की वजह से दुनिया भर की सरकारों की तरफ से क्रिप्टो को लेकर कदमों के प्रति अनिश्चितता बनी हुई है। इन सब वजहों से क्रिप्टो कंरसी की कीमतों में बेहद तेज उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है। कई बार किसी मशहूर शख्स जैसे एलन मस्क का क्रिप्टो को लेकर एक ट्वीट भी लोगों को मोटा फायदा या तगड़ा नुकसान कराने के लिये काफी है।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »