22 Jun 2021, 00:16:13 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

गोवा के मेडिकल कॉलेज में 26 कोरोना मरीजों की मौत, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बोले- हाईकोर्ट करे जांच

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 11 2021 7:23PM | Updated Date: May 11 2021 7:24PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

पणजी। गोवा (Goa) के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री विश्‍वजीत राणे (Vishwajit Rane) ने मंगलवार को जानकारी दी है कि राज्‍य सरकार के अधीन गोवा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (Goa Medical College) में 26 कोरोना मरीजों (Corona Patients) की मौत हुई है। इन सबका अस्‍पताल में इलाज चल रहा था। इसके साथ ही राणे ने मांग की है कि इस घटना की जांच हाईकोर्ट करे ताकि इसके कारण का पता चल सके।

मंत्री का कहना है कि इन सभी 26 कोरोना मरीजों की मौत देर रात 2 बजे से लेकर मंगलवार सुबह 6 बजे के बीच हुई है लेकिन इसका कारण सामने नहीं आया है। वहीं गोवा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का दौरा करने के बाद राज्‍य के मुख्‍यमंत्री प्रमोद सावंत का कहना है कि ऐसी आशंका है कि मेडिकल ऑक्‍सीजन की उपलब्‍धता और कोविड वार्ड में उसकी सप्‍लाई के बीच कुछ समय लगने के कारण कोरोना मरीजों को शायद कुछ परेशानी हुई होगी। 

हालांकि उन्‍होंने इस बात पर भी जोर दिया कि राज्‍य में ऑक्‍सीजन सप्‍लाई में कोई परेशानी नहीं है। राणे ने पत्रकारों से बातचीत में यह माना कि सोमवार तक गोवा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में ऑक्‍सीजन सप्‍लाई कम थी। उन्‍होंने कहा, 'इस घटना के कारणों का पता लगाने के लिए इसकी जांच हाईकोर्ट को करनी चाहिए। इसके साथ ही उन्‍होंने मांग की है कि हाईकोर्ट मामले में हस्‍तक्षेप करे इससे चीजें सुधारने में मदद मिल सकती है।'

स्वास्‍थ्‍य मंत्री ने दावा किया कि अस्‍पताल में सोमवार तक 1400 जंबो सिलेंडर के करीब मेडिकल ऑक्‍सीजन की आवश्‍यकता थी। लेकिन उसे 400 सिलेंडर सप्‍लाई किए गए थे। उनका कहना है कि अगर ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई में कमी है तो इस पर चर्चा होनी चाहिए कि इसे कैसे दूर किया जाए। गोवा मेडिकल कॉलेज में कोरोना के इलाज की निगरानी करने के लिए बनाई गई नोडल ऑफिसर्स की 3 सदस्‍यीय टीम को मुद्दों के बारे में मुख्‍यमंत्री को बताना चाहिए।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »