23 Jan 2022, 14:18:48 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

सेंसेक्स ढाई महीने बाद फिर हुआ 61 हजारी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 12 2022 6:20PM | Updated Date: Jan 12 2022 6:20PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई।अमेरिकी फेड रिजर्व के महंगाई को नियंत्रित रखने का उपाय करने के आश्वासन से वैश्विक बाजार में आई तेजी के बीच स्थानीय स्तर पर सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों टीसीएस, इंफोसिस और विप्रो के जारी होने वाले तिमाही परिणाम के मजबूत रहने की उम्मीद से उत्साहित निवेशकों की चौतरफा लिवाली की बदौलत आज सेंसेक्स ढाई महीने बाद एक बार फिर 61 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर गया। टीसीएस, इंफोसिस और विप्रो का चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के जारी होने वाले परिणाम की मजबूत रहने की उम्मीद से घरेलू शेयर बाजार में भी निवेशकों ने जमकर लिवाली की। इसकी बदौलत बीएसई का सेंसेक्स 533.15 अंक की छलांग लगाकर ढाई माह बाद 61 हजार अंक के पार 61,150.04 पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 156.60 अंक उछलकर 18,212.35 अंक पर रहा।

दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मझौली कंपनियों में भी लिवाली हुई। इस दौरान बीएसई का मिडकैप 1.08 फीसदी चढ़कर 25,929.36 अंक और स्मॉलकैप 0.70 फीसदी की तेजी लेकर 30,646.24 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 3530 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1839 में तेजी जबकि 1611 में गिरावट रही वहीं 80 में कोई बदलाव नहीं हुआ। एनएसई में 35 कंपनियां बढ़त में जबकि 15 गिरावट पर रहीं। फेडरल रिजर्व के अध्यक्ष जेरोम पॉवेल के निवेशकों को केंद्रीय बैंक आर्थिक विस्तार के लिए मुद्रास्फीति से निपटेगा का आश्वासन देने से एशियाई और यूरोपीय बाजार में तेजी आई। इस दौरान ब्रिटेन का एफटीएसई 0.77, जर्मनी का डैक्स 0.62, जापान का निक्केई 1.92, हांगकांग का हैंगसैंग 2.79 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.84 प्रतिशत चढ़ गया। बीएसई के 17 समूहा में तेजी रही। दूरसंचार समूह के शेयरों ने सबसे अधिक 3.15 प्रतिशत की छलांग लगाई। इसके अलावा बेसिक मैटेरियल्स 1.14, सीडीजीएस 0.65, ऊर्जा 2.10, वित्त 0.78, इंडस्ट्रियल्स 0.71, यूटिलिटीज 2.16, ऑटो 1.25, बैंकिंग 0.77, धातु 1.53, तेल एवं गैस 0.93, पावर 2.21, रियल्टी 1.84 और टेक समूह में 0.61 प्रतिशत की बढ़त रही।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »