28 Feb 2024, 14:22:13 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

लव मैरिज के बाद दूसरी शादी करने पहुंचा… पोल खुली तो लड़की वालों ने बना लिया बंधक

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 30 2023 2:56PM | Updated Date: Nov 30 2023 2:56PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले की एक शादी में अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जहां शादी के दौरान ही दूल्हा, दूल्हे के पिता और मामा को बंधक बना लिया गया। बंधक किसी और ने नहीं कन्या पक्ष के लोगों ने बनाया है। दूल्हे का नाम राज वर्मा और उसके पिता नन्हकू राम वर्मा है। दूल्हा अपनी बारात लेकर केवटली गांव पहुंचा हुआ था। राज वर्मा की शादी बलजोर निषाद की बेटी शकुंतला से तय हुई थी। बारात लेकर पहुंचने के बाद शादी में सब कुछ सही चल रहा था। अचानक दूल्हे को बंधक बना लिया गया। मौका पाकर बाराती जान बचाकर वहां से भाग निकले।

दरअसल, दूल्हा पहले से ही लव मैरिज किसी अन्य लड़की से कर चुका था। जब उस लड़की से मन भर गया तो वह गैर बिरादरी की दूसर लड़की को अपना दिल दे बैठा। बात शादी तक पहुंच गई। घर वाले भी तैयार हो गए, क्योंकि ऊंचे कुल का लड़का स्वयं शादी को तैयार था। शादी की तारीख निर्धारित हो गई। बारात भी दरवाजे पहुंच गई।

इसी दौरान द्वारचार की रस्मों के बीच यूपी 112 की टीम मौके पर पहुंच गई। पुलिस को देख शादी रुकवा दी गई। बताया गया कि दूल्हे की पहली बीवी ने शिकायत की है। ये पहले से शादीशुदा है। इतना सुनते ही कन्या पक्ष के लोगों का पारा हाई हो गया। दूल्हे, उसके पिता और मामा को बंधक बना लिया गया।

बिगड़े हालात को देखते हुए जश्न में डूबे बाराती तुरंत ही वहां से खिसक लिए। बंधक बनाए जाने की सूचना के बाद स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस की मदद से दू्ल्हा पक्ष बीच का रास्ता निकालने में जुट गए। कन्या पक्ष के लोग शादी में खर्च किए गए रुपयों के बिना रिहाई को तैयार नहीं हुए। रात से सुबह हो गई और सुबह से शाम हो गई। यह मामला नहीं सुलझा।

दूल्हा पक्ष ने कन्या पक्ष के खर्चे में कोई समझौता करने को तैयार नहीं हुआ। लगातार पंचायत चलती रही। तमाशबीनों की भीड़ भी लगी रही। पुलिस मुकदमा दर्ज करने की धमकी भी देती रही। इसके बाद पुलिस की मौजूदगी में गवाहों के सामने लिखा पढ़ी हुई। दूल्हा पक्ष ने 3।50 लाख की रकम तीन दिनों में तीन किस्तों में देने का लिखित आश्वासन कन्या पक्ष को दिया।

इसके बाद दूल्हा, पिता और मामा की रिहाई हो सकी। इस मामले में कन्या पक्ष का दावा है कि शादी में तीन से चार लाख रूपये खर्च हुए हैं। इस मामले पर अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी विद्यासागर मिश्र ने बताया कि घटना के बाद से पुलिस दोनों पक्षों से बातचीत कर रही है। दोनों के पक्षों से बातचीत के आधार पर ही कोई कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »