19 Jul 2024, 17:21:59 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

पबजी खेलते हुई दोस्ती के बाद अमेर‍िका से 12000 KM इटावा चली आई युवती, रोडवेज बस में बैठी तो आ गई पुलिस

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 15 2024 3:46PM | Updated Date: Jun 15 2024 3:46PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

फिरोजाबाद। अमेरिकन लड़की (American girl) की पबजी गेम (pubg game) खेलते समय इटावा (Etawah) के रहने वाले युवक से दोस्ती हो गई। इसके बाद वह लड़के से मिलने इटावा पहुंच गई। यहां से वह रोडवेज बस से दिल्ली जा रही थी, तभी शिकोहाबाद पुलिस ने लड़की को बस से उतारा और पूछताछ की। पूछताछ के बाद लड़की को दिल्ली महिला पुलिस के साथ भेज दिया गया।

पबजी खेलने के दौरान इटावा के रहने वाले हिमांशु नाम के लड़के से अमेरिकन लड़की की दोस्ती हो गई। इसके बाद लड़की टूरिस्ट वीजा पर पहले चंडीगढ़ पहुंची, जहां से वह इटावा आ गई। दरअसल, अमेरिका के फ्लोरिडा होलमेज क्रीक रोड ग्रेसविले की रहने वाली ब्रुकलिन कार्नले नाम की लड़की पबजी खेलने की शौकीन थी। पबजी गेम खेलने के दौरान उसकी मुलाकात चंडीगढ़ के रहने वाले युवी वांगो नाम के युवक से हुई। युवी वांगो बेंगलुरु में जॉब करता है। अमेरिकन लड़की ब्रुकलिन टूरिस्ट वीजा पर भारत आ गई और तीन माह तक चंडीगढ़ में युवी बांगो के फ्लैट में रही।

इस दौरान फिर से पबजी खेलने के दौरान ब्रुकलिन की मुलाकात इटावा के रहने वाले हिमांशु नाम के युवक से फरीदाबाद में हुई। फिर वह हिमांशु के साथ इटावा आ गई। कई दिन इटावा रहने के बाद ब्रुकलिन यूपी रोडवेज की बस संख्या UP78 HT 3323 से दिल्ली जा रही थी। इस बीच शिकोहाबाद में एक यात्री को अमेरिकन लड़की और भारतीय लड़के के बीच बातचीत को लेकर कुछ शक हुआ तो तुरंत सूचना पुलिस को दी गई।

फिरोजाबाद के शिकोहाबाद थाना इंचार्ज अनिल कुमार ने बताया कि सूचना पर शिकोहाबाद में बस को रुकवाया गया, जहां से लड़की को और हिमांशु नाम के युवक को बस से उतारकर शिकोहाबाद थाने ले जाया गया। हिमांशु और ब्रुकलिन से गहन पूछताछ की गई।

दस्तावेजों की जांच में पाया गया कि लड़की अमेरिका से टूरिस्ट वीजा पर हिंदुस्तान घूमने आई हुई है, जहां वह पबजी खेलते समय उसकी कई हिंदुस्तानियों से दोस्ती हो गई। बस इसी को लेकर वह इटावा चली आई। फिलहाल पुलिस ने महिला सिपाही के साथ उसे दिल्ली भिजवा दिया है।

शिकोहाबाद थाना अध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि लड़की हिंदी बिल्कुल नहीं जानती थी। उसके बातचीत करने का लहजा भी अमेरिकन था। वहीं हिमांशु की इंग्लिश भी कमजोर थी। इसलिए दोनों गूगल ट्रांसलेटर के माध्यम से आपस में बातचीत करते थे। देर रात तक इंटेलिजेंस और LIU ने भी लड़के से पूछताछ की। हिमांशु को उसके परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है। अमेरिकन लड़की को दिल्ली महिला सिपाही के साथ भेज दिया गया है।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »