21 Apr 2024, 08:58:05 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

रोहन बोपन्ना ने ऑस्ट्रेलियन ओपन मेंस डबल्स का जीता खिताब

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 27 2024 8:48PM | Updated Date: Jan 27 2024 8:48PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

रोहन बोपन्ना हाल ही में पुरुष युगल की रैंकिंग में नंबर-एक पायदान पर पहुंचे हैं. गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर उन्हें प्रतिष्ठित पद्म श्री पुरस्कार के लिए भी चुना गया. रोहन बोपन्ना 43 साल और 329 दिन की आयु में चैंपियन बने हैं. वहीं यह एबडेन का दूसरा पुरुष युगल खिताब है. उन्होंने इससे पहले ऑस्ट्रेलियाई मैक्स परसेल के साथ 2022 में विंबलडन जीता था. रोहन बोपन्ना ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने की उपलब्धि हासिल करने वाले तीसरे भारतीय खिलाड़ी बन गये. इससे पहले लिएंडर पेस और महेश भूपति ही भारत के लिए पुरुष टेनिस में मेजर खिताब जीत पाये हैं जबकि सानिया मिर्जा ने महिला टेनिस में यह उपलब्धि हासिल की है. रोहन बोपन्ना 2013 में और फिर 2023 में यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचे थे, लेकिन फाइनल में हार गए थे.  रोहन बोपन्ना के नाम सिर्फ एक ग्रैंड स्लैम खिताब है जो उन्होंने 2017 में फ़्रेंच ओपन में मिश्रित युगल में कनाडा की गैब्रिएला डाब्रोव्स्की के साथ जीता था.
 
रॉड लीवर अरीना में यह इतना कड़ा मुकाबला था कि इसमें बस एक बार सर्विस ब्रेक हुई जब वावासोरी ने दूसरे सेट के 11वें गेम में अपनी सर्विस गिराई. इसमें ज्यादा ब्रेक प्वाइंट भी नहीं थे. दूसरी वरीयता प्राप्त जोड़ी को मुकाबले के शुरू में लगातार गेम में ब्रेक प्वाइंट मिले. लेकिन इटली के खिलाड़ियों ने दोनों को बचा लिया. दूसरे गेम में बोलेली की सर्विस पर वावासोरी ने 30-30 पर वॉली लगायी लेकिन बोपन्ना ने लंबा रिटर्न लगा दिया. चौथे गेम में इटली के खिलाड़ी फिर एक ब्रेक प्वाइंट से पिछड़ गये जब 30-30 पर बोपन्ना का रिटर्न शॉट 'नेट कोर्ड' से उछलकर नीचे गिर गया जिससे दूसरी वरीय जोड़ी को किस्मत के सहारे अंक मिल गया. लेकिन वावासोरी ने अच्छी सर्विस से इस प्वाइंट को भी बचा लिया.
 
बोलेली 4-5 पर सर्विस करते हुए '30-ऑल' पर दबाव में दिख रहे थे. लेकिन उन्होंने ताकतवर क्रॉस कोर्ट फोरहैंड शॉट मारा जो बोपन्ना की पहुंच से दूर निकल गया और फिर स्कोर 5-5 से बराबर हो गया. 11वें गेम में इबडेन पर दबाव बन गया जिसमें उन्हें ब्रेकप्वाइंट का सामना करना पड़ा लेकिन ड्यूस प्वाइंट खेलने के बाद आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने ऐस लगाकर यह गेम खत्म किया.  फिर टाई ब्रेकर में बोलेली की सर्विस दो बार टूटी और बोपन्ना-इबडेन की जोड़ी ने अपनी सर्विस पर एक भी अंक गंवाये बिना 5-0 से बढ़त बना ली. वावासोरी छह सेट प्वाइंट पर अपनी सर्विस गंवा बैठे. उन्होंने पहली को अंक में बदला लेकिन इबडेन ने लाइन के नीचे फोरहैंड शॉट से जीत हासिल की. बोपन्ना सोमवार को जारी होने वाली एटीपी रैंकिंग में नंबर एक खिलाड़ी बन जायेंगे.
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »