27 Feb 2024, 11:35:19 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

मिचौंग तूफान से चेन्नई में तबाही, अब तक 17 लोगों की मौत, यातायात ठप

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 6 2023 3:11PM | Updated Date: Dec 6 2023 3:11PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान मिचौंग के कारण तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के साथ कई अन्य जिलों में तबाही का मंजर देखा गया। एयरपोर्ट से लेकर सबवे तक जलजमाव के कारण यातायात ठप पड़ा है। चक्रवात की वजह से तमिलनाडु और पुडुचेरी में भारी बरसात देखने को मिल रही है। चेन्नई में बरसात से जुड़ी घटनाओं में अब तक कम से कम 17 लोगों की मौत चुकी है। वहीं करोड़ों की संपत्ति का नुकसान हुआ है। हालांकि राहत यह है कि चेन्नई में बारिश कम हो चुकी है। शहर के कई हिस्सों में बचाव कार्य जारी है। उड़ान और ट्रेन परिचालन दोबारा से पटरी पर लौट चुका है। इस बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को कहा कि चक्रवात मिचौंग के पहुंचने की प्रक्रिया अब पूरी हो चुकी है। वहीं ओडिशा और पूर्वी तेलंगाना के दक्षिणी जिले में अलर्ट जारी किया गया है। 

भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के चेतक हेलीकॉप्टरों को चेन्नई में बाढ़ से राहत कार्यों के लिए लगाया गया है। इसके लिए आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, तेलंगाना और पुडुचेरी में एनडीआरएफ की 29 टीमें को लगाया गया है। डीएमके सांसद कनिमोझी के अनुसार, चेन्नई में बाढ़ से प्रभावित लोगों को स्थानांतरित करने को लेकर 400 से ज्यादा आश्रय स्थल बनाए गए हैं। मंगलवार सुबह 9 बजे तक कोई भी उड़ान नहीं जा सकी। चेन्नई हवाईअड्डे के रनवे पर लबालब पानी देखा गया। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। 

बारिश के बाद आई बाढ़ के कारण चेन्नई, तिरुवल्लुर, कांचीपुरम और चेंगलपट्टू में बीते कई दिनों से स्कूल बंद हैं। ये आज भी बंद रहने वाले हैं। मंगलवार को इस बाढ़ में अभिनेता आमिर खान भी फंसे दिखाई दिए। इसके बाद वे चेन्नई फायर सर्विस कर्मियों की सहायता से बचाए जा सके। मशहूर हस्तियों में बैडमिंटन खिलाड़ी और अर्जुन अवॉर्डी ज्वाला गुट्टा भी इस बाढ़ में फंस गए। 

डीएमके ने मंगलवार को लोगों की मदद करने और चेन्नई में मची तबाही के बाद पुनर्निर्माण के लिए 5 हजार  करोड़ रुपये की डिमांड केंद्र से की है। तमिलनाडु सरकार का कहना है कि उनका मुख्य ध्यान 80% बिजली आपूर्ति को दोबारा से बहाल करना है। वहीं 70% मोबाइल नेटवर्क को सही किया गया है। पूरे चेन्नई में बारिश से मची तबाही की वजह से कई जिला आपदा प्रतिक्रिया दल (डीडीआरटी) का गठन किया गया है।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »