22 May 2024, 11:02:57 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » World

पाकिस्तानी सैनिकों के खून का प्यासा हुआ तालिबान! बॉर्डर क्रॉसिंग बंद, हालात तनावपूर्ण

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 7 2023 2:31PM | Updated Date: Sep 7 2023 2:31PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

इस्लामाबाद। पाकिस्तान और अफगानिस्तान के सैनिकों के बीच बुधवार को हुई गोलीबारी के बाद दोनों देशों की एक प्रमुख बॉर्डर क्रॉसिंग को बंद कर दिया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अफगानिस्तान से लगे बॉर्डर के पास हुए एनकाउंटर में 4 पाकिस्तानी सैनिकों और 12 आतंकियों की मौत हो गई थी।  इसके अलावा बॉर्डर के पास ही एक मकान पर मोर्टार गिरने से पाकिस्तान के 5 नागरिकों की मौत हो गई, जिनमें 4 बच्चे और उनकी मां शामिल थे। इन सारी घटनाओं के बाद पाकिस्तान और अफगानिस्तान के रिश्तों में भारी तनाव पैदा हो गया है।

स्थानीय निवासियों द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, तोरखाम क्रॉसिंग के पास गोलियों की तड़तड़ाहट की आवाज सुनी गई। उन्होंने कहा कि गोलीबारी की आवाज आते ही सभी लोग वहां से भाग निकले। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान और अफगान तालिबान के सैनिकों के बीच हुई इस गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ है। तोरखाम बॉर्डर क्रॉसिंग पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच यात्रियों और सामान की आवाजाही के लिए मुख्य ट्रांजिट पॉइंट है। हाल के सालों में यह क्रॉसिंग कई बार बंद की जा चुकी है, जिसकी वजह से दोनों तरह हजारों की संख्या में ट्रकों की लंबी लाइनें  लग जाती हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि गोलीबारी की शुरुआत किसने की। पाकिस्तानी अधिकारियों ने कहा कि वे अपने अफगान समकक्षों के साथ बातचीत कर रहे हैं ताकि तनाव को कम किया जा सके। अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुल मतीन कनी ने दोनों देशों के सैनिकों के बीच गोलीबारी की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के अधिकारी गोलीबारी के कारणों का पता लगा रहे हैं, और ऐसी झड़पों से बचने के रास्ते तलाश रहे हैं। पाकिस्तान के अधिकारियों का कहना है कि बॉर्डर पर दर्जनों ऐसे ट्रक फंस गए हैं, जिन पर खराब होने वाली चीजें जैसे सब्जियां और फल लदे हैं।

दोनों देशों के बीच हुई यह गोलीबारी पाकिस्तान के कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनवर-उल-हक काकर के उस बयान के बाद हुई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि अमेरिका द्वारा अफगानिस्तान में छोड़े गए हथियार आतंकियों के हाथ लग गए हैं। उन्होंने कहा था कि ये हथियार पाकिस्तानी तालिबान के भी पास आ गए हैं जो कि अफगानिस्तान की सत्ता पर काबिज लोगों के साथी हैं। बता दें कि पाकिस्तानी नेताओं के हालिया बयानों से अफगानिस्तान के नेता काफी नाराज हैं और दोनों देशों के लीडर्स के बीच जुबानी जंग भी चलती रहती है।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »