24 May 2024, 12:00:42 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Maharashtra

'डेयरी ऋण योजना' के संबंध में गलत सूचना को दूर करने के लिए नाबार्ड ने जारी किया निवेदन

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 16 2024 8:05PM | Updated Date: Apr 16 2024 8:05PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई। राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) ने "नाबार्ड डेयरी ऋण योजना" के बारे में वर्तमान में फैलाई जा रही गलत सूचना के संबंध में एक बयान जारी किया है. नाबार्ड ने स्पष्ट रूप से उन झूठे दावों का खंडन किया है जिनमें कहा गया है कि, नाबार्ड डेयरी उद्यमिता विकास योजना के तहत किसानों को डेयरी व्यवसायों के लिए सीधे ऋण प्रदान करता है. नाबार्ड ने स्पष्ट किया है कि उक्त दावों में दी गई जानकारी पूरी तरह से गलत है.
 
नाबार्ड, एक शीर्ष विकास वित्त संस्थान के रुप में, ग्रामीण विकास से जुड़ी विभिन्न वित्तीय संस्थाओं और सहकारी संस्थाओं को वित्तीय सहायता और सहयोग प्रदान करने के लिए काम करता है. नाबार्ड कभी भी अलग-अलग किसानों को सीधे ऋण वितरित नहीं करता है. सभी हितधारकों, विशेषकर किसानों और ग्रामीण उद्यमियों को ऐसी गलत सूचनाओं के संबंध में सावधानी बरतने और उनमें विश्वास करने तथा उनका प्रचार-प्रसार करने से बचने के लिए आग्रह किया गया है. असत्यापित जानकारी से किसी को भी वित्तीय जोखिम और गलतफहमी हो सकती है. विभिन्न योजनाओं की सटीक जानकारी नाबार्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.nabard.org से प्राप्त की जा सकती है .
 
नाबार्ड संधारणीय आजीविका को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कार्यान्वित की जा रही विभिन्न पहलों और योजनाओं के माध्यम से ग्रामीण विकास और कृषि को बढ़ावा देने की अपनी प्रतिबद्धता पर अटल है . इसलिए, नाबार्ड ने सभी हितधारकों से अपील की है कि, वे सटीक जानकारी का प्रसार सुनिश्चित करने और गलत जानकारी के प्रसार को रोखने में सहायता करें. अधिक स्पष्टीकरण के लिए या पूछताछ के लिए, कृपया सीधे नाबार्ड से संपर्क करें अथवा हमारे निकटतम कार्यालय में जाएँ.
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »