21 Sep 2021, 23:14:09 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

सिरीषा कल अंतरिक्ष यात्रा पर होंगी रवाना, भारतीय मूल की तीसरी महिला होंगी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 11 2021 12:16AM | Updated Date: Jul 11 2021 6:52PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

ह्यूस्टन। आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में जन्मीं सिरीषा बांडला (34) रविवार को वर्जिन गैलेक्टिस कंपनी के अभियान के तहत अंतरिक्ष के लिए रवाना होंगी। वह छह सदस्यीय उस अंतरिक्ष यात्री दल का हिस्सा हैं जो गैलेक्टिस के मालिक रिचर्ड ब्रैन्सन के नेतृत्व में न्यू मेक्सिको से रवाना होगा। 

यात्रा से पूर्व अपने ट्वीट में सिरीषा ने खुद के यूनिटी 22 अभियान का हिस्सा होने पर गौरवान्वित महसूस करने की बात लिखी है। सिरीषा अंतरिक्ष यात्री के तौर पर उड़ान के दौरान होने वाले अनुभवों पर शोध करेंगी। अंतरिक्ष में जाने वाली वह भारतीय मूल की तीसरी और भारत में जन्मीं दूसरी महिला होंगी। उनसे पहले कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स अंतरिक्ष में जा चुकी हैं।

ट्विटर पर पोस्ट किए वीडियो मैसेज में सिरीषा ने कहा है कि इस अवसर के लिए खुद के चुने जाने की सूचना से वह अवाक रह गई थीं। इस अप्रत्याशित अवसर के लिए किस तरह से प्रतिक्रिया दी जाए, वह समझ ही नहीं पाईं और निशब्द हो गईं। लेकिन बाद में एहसास हुआ कि विभिन्न पृष्ठभूमि के लोगों के साथ अंतरिक्ष में जाकर वह इतिहास रचने वाली हैं।

परड्यू और फ्लोरिडा की यूनिवर्सिटी में पढ़ीं सिरीषा को मानवीय संवेदनाओं पर शोध करने का अनुभव हासिल है। पर्यटन के लिए अंतरिक्ष का इस्तेमाल करने के उद्देश्य से हो रही इस यात्रा में इसका मानव मन-मस्तिष्क पर होने वाले असर का शोध किया जाएगा। सिरीषा वर्जिन गैलेक्टिस से इसी साल जनवरी में जुड़ी थीं और उसी के बाद उन्हें अंतरिक्ष यात्रा का प्रस्ताव मिला। सिरीषा ने अंतरिक्ष में जाने का सपना बचपन में ही देखा था लेकिन आंखों के कमजोर होने की वजह से वह उस दिशा में विज्ञान के जरिये आगे नहीं बढ़ पाईं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »