28 Feb 2020, 11:15:01 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

भारत में जाति व्यवस्था के मुकाबले हिन्दुत्व को करें मजबूत: मोहन भागवत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 18 2020 12:36AM | Updated Date: Jan 18 2020 12:37AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुरादाबाद। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सर संघ चालक मोहन भागवत ने कहा कि भारत में जाति व्यवस्था के मुकाबले हिन्दुत्व को मजबूत करने का दायित्व निभाएं। भागवत ने यहां पश्चिम क्षेत्र को प्रखर हिंदुत्व का मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि स्वयंसेवक हर जाति व्यवस्था के मुकाबले हर व्यक्ति के मन में हिंदुत्व का भाव जगाएं। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति की पहचान उसकी जाति से नहीं बल्कि हिंदू से होनी चाहिए। इसकी शुरुआत अपने घर और कार्यक्षेत्र से करें। घर में काम करने वाली बाई हो या ड्राइवर, सफाई कर्मचारी या कपड़े धोने वाला। उसे सहजता से हिन्दुत्व की विधारधारा से जोड़ें।
 
उसे हिंदू होने पर गर्व करवाएं। संघ प्रमुख ने मुरादाबाद स्थित एमआईटी के कैंपस में प्रवास के तीसरे दिन शुक्रवार को यहां अनुषांगिक संगठनों के प्रांत संगठन मंत्री और प्रचारकों को संबोधित किया। महत्वपूर्ण समझे जाने वाले चार सत्रों में संघ प्रमुख ने संघ के इस महत्वपूर्ण काम को समाज के आखिरी व्यक्ति तक पहुंचाने का दायित्व प्रचारकों को सौंपा। उन्होंने कहा की संघ की लंबी अनुभव यात्रा में सामने आया है कि जातिव्यवस्था अब जाने वाली है। हम विषमता में विश्वास नहीं रखते।
 
ऐसा वातावरण नहीं होना चाहिए कि जाति से किसी की पहचान हो। सभी की पहचान हिंदू से होनी चाहिए। विरोध की परवाह किए बगैर कुरीतियां खत्म करनी हैं और अपनी मंजिल तक पहुंचना है।  उन्होंने कहा कि अगर हम सफाई कर्मचारी से भेदभाव करेंगे, जाति बीच में आएगी तो समस्या होगी। संघ प्रमुख ने आगे कहा कि किसी पर विचार थोपने से वह उसे कभी आत्मसात नहीं करता। जब वह मानसिक रूप से इसके लिए तैयार होगा तभी उसे स्वीकारेगा। यह तय है कि अगर ज्यादा लोग एक विचारधारा के होंगे तो व्यवस्था उसी अनुरूप चलती है। सरकारें भी वैसा ही निर्णय लेती हैं।
 
मुरादाबाद इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलॉजी के रामगंगा विहार स्थित परिसर में शुक्रवार को पहला सत्र नौ बजे से शुरू हुआ और समापन चार सत्रों में शाम साढ़े पांच बजे किया। इस दौरान मेरठ, बृज और पूरे उत्तराखंड से आए संघ के प्रचारक अनुसांगिक संगठनों के क्षेत्र, प्रांत, विभाग, जिला के संगठन मंत्री शामिल हुए। जल संरक्षण, स्वच्छता पर्यावरण समेत तमाम क्षेत्रों में स्वयं सेवकों को दायित्व का बोध कराया गया। उत्तराखंड में पहाड़ तथा मैदानी क्षेत्रों में जल-जंगल,वनस्पति बचाने का संकल्प लिया गया । संघ के सर सहकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने भी एक सत्र को संबोधित किया। कार्यक्रम में क्षेत्र प्रचारक आलोक कुमार, मेरठ प्रांत प्रचारक धनीराम बृज से हरीश रौतेला प्रांत प्रचारक ,उत्तराखंड से युद्धवीर, हिजाम से हितेश बंसल, विहिप से सुनील कुमार समेत तमाम गणमान्यजन उपस्थित रहे।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »