13 Aug 2020, 00:17:08 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

भविष्य की जरूरतों के अनुसार बनेंगे शहरों के मास्टर प्लान : कमलनाथ

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 10 2019 9:59AM | Updated Date: Dec 10 2019 10:00AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि अब हमारा लक्ष्य है कि देश में मध्यप्रदेश की एक अलग पहचान बने। भविष्य की जरूरतों और आबादी के दबाव को कम करने के लिए भोपाल सहित प्रदेश के सभी शहरों का मास्टर प्लान बनाया जाएगा और भोपाल के इतिहास का विधिवत लेखन भी किया जाएगा। कमलना­थ आज बड़े तालाब स्थित जीवन वाटिका उद्यान में म्यूजिकल वॉटर फाउंटेन का उदघाटन कर रहे थे। भोपाल के प्रभारी एवं सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह और नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह इस अवसर पर उपस्थित थे।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हर शहर की अपनी संस्कृति और इतिहास है। आने वाली पीढ़ी को इससे अवगत कराने के लिए प्रयास करना होंगे जिससे वे अपने शहर की विशिष्ट परंपराओं और सभ्यता को जान सके। उन्होंने कहा कि बढ़ते हुए शहरीकरण से उत्पन्न समस्याओं पर गंभीरता से सोचना होगा और इसके समाधान के उपाय तलाशने होंगे। उन्होंने शहरों के विस्तार और उन्हें व्यवस्थित बनाने में आम जनता से भी जुड़ने को कहा। बगैर उनके सहयोग के यह संभव नहीं होगा।

मुख्यमंत्री ने भोपाल की शान बड़े तालाब में म्यूजिकल वॉटर फाउंटेन की शुरूआत होने पर महापौर आलोक शर्मा एवं नगर निगम को बधाई देते हुए कहा कि हम प्रदेश के प्रमुख मंदिरों और एतिहासिक धरोहरों में लेजर शो के माध्यम से उसके इतिहास, संस्कृति को आम लोगों, विशेषकर पर्यटकों के सामने प्रस्तुत करने की योजना बना रहे हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री के रूप में भोपाल तालाब के गहरीकरण, सौंदर्यीकरण और वी.आई.पी. रोड बनाने के लिए योजना मंजूर कर राशि उपलब्ध करवाई थी। उन्होंने कहा कि यह मेरी जवाबदारी थी कि भोपाल का यह ताल सदैव सुरक्षित और सुंदर रहे।

जनसंपर्क एवं विधि विधायी मंत्री पी.सी. शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश के हर शहर का सौंदर्य  निखारने के प्रयास प्रारंभ किए है। आज हमारा भोपाल वायु सेवा के माध्यम से देश के प्रमुख शहरों से जुड़ा है। इसका श्रेय भी कमलनाथ को जाता है। शर्मा ने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए संजीवनी क्लीनिक का शुभारंभ कर मुख्यमंत्री ने ऐतिहासिक काम किया है। बेहतर स्वास्थ्य के साथ सुंदर शहर बनाने के लिए भी उनके निरंतर प्रयास जारी है। महापौर आलोक शर्मा ने भोपाल के इतिहास को नए सिरे से लिखने की आवश्यकता बतलाई। उन्होंने कहा कि भोपाल का एक हजार साल पुराना गौरवशाली इतिहास है। यहाँ की गंगा-जमुनी तहजीब हमारे आपसी सद्भाव की मिसाल है।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »