06 Feb 2023, 20:44:22 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

नागपुर में नायलॉन मांजे से 11 साल के बच्चे की मौत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 16 2023 5:43PM | Updated Date: Jan 16 2023 5:45PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

महाराष्ट्र। जब हर जगह मकर संक्रांति का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया है, वहीं नागपुर से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है मकर संक्रांति का यह दिन एक 11 साल के के लिए काल लड़के बनकर आया जहां लोग मकर संक्रांति के मौके पर पतंग उड़ा कर एन्जॉय कर रहे थे वही इस मौसम के घर मौत का मातम छाया हुआ था। आपको बता दें कि यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना नागपुर के जरीपटका पुलिस थाने की सीमा में हुई। बता दें कि इस 11 साल के लड़के का नाम वेद साहू है। शनिवार की शाम वेद अपने पिता के साथ बाइक पर जा रहा था। इसी दौरान अचानक मांजा आ गया और उसका गला कट गया। इसमें वह घायल हो गया। उन्हें मनकापुर के एक अस्पताल में ले जाया गया। हालांकि, कोई इलाज नहीं था। आखिरकार रात में उन्हें धंतोली स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। चोट गंभीर थी और इलाज में देरी हो रही थी।

अंत में मकर संक्रांति की सुबह बच्चे का देहांत हो गया। माता-पिता और रिश्तेदार सदमे में हैं क्योंकि समय ने उनकी आंखों के सामने मुस्कुराते हुए वेद पर हमला किया है। महज 24 घंटे पहले धंतोली में एक लड़का पतंग पकड़ते समय ट्रेन के नीचे गिरकर मर गया। इसके बाद 11 साल के इस लड़के की मौत हो गई है। इसके बाद शहर में सनसनी है। हैरानी की तो बात यह है कि नायलॉन का मांजे, जो मानव जीवन, पशु और पक्षियों के लिए खतरा पैदा करती है वह बाजार में व्यापक रूप से बिकता भी है। प्लास्टिक, सिंथेटिक से बने कांच की परत वाले नायलॉन मैट का उपयोग आमतौर पर पतंग उड़ाने में किया जाता है। कई लोगों के गले में गंभीर चोट लगने की घटनाएं हुई हैं। पिछले साल नायलॉन के मांझे की बिक्री ने कई दोपहिया वाहनों पर सवार लोगों का गला काट दिया था। इसमें तीन-चार अहम घटनाएं हुईं। इसके साथ ही नायलॉन की मांजे से पक्षियों के मरने की घटनाएं भी सामने आई हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »