07 Dec 2021, 15:48:20 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Others

पीडीपी ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक को भेजा कानूनी नोटिस, जानें पूरा मामला

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 22 2021 8:34PM | Updated Date: Oct 22 2021 8:37PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

जम्मू-कश्मीर। पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक को महबूबा मुफ्ती पर लगाए आरोपों को लेकर कानूनी नोटिस भेजा है। सत्यापाल मलिक ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को रोशनी योजना का लाभार्थी बताया था। उन्होंने कई अन्य नेताओं के साथ महबूबा मुफ्ती पर आरोप लगाते हुए कहा था कि रोशनी योजना के तहत महबूबा मुफ्ती को प्लॉट मिला है।
 
समाचार एजेंसी एएनआई ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। दरअसल, जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्य पाल मलिक ने कथित तौर पर यह आरोप लगाया है महबूबा मुफ्ती के साथ ही फारूक अब्दुल्ला और उनके बेटे उमर अब्दुल्ला रोशनी योजना के लाभार्थी थे।
 
वर्तमान में मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के आरोपों पर महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को एक ट्वीट किया और उनके आरोपों को झूठा, बेहूदा और शरारतपूर्ण बताया। महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, "सत्यपाल मलिक द्वारा मुझे रोशनी अधिनियम का लाभार्थी बताया जाना झूठा, बेहूदा व शरारतपूर्ण है। मेरी कानूनी टीम उनके खिलाफ मामला दर्ज करने की तैयारी कर रही है। उनके (मलिक के) पास अपनी टिप्पणी वापस लेने का विकल्प है, अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो मैं कानूनी कदम उठाउंगी।’’
 
महबूबा मुफ्ती ने मलिक का वीडियो लिंक भी साझा किया, जिसमें जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल दावा कर रहे हैं कि नेशनल कांफ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला, उनके बेटे उमर अब्दुल्ला और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को रोशनी योजना के तहत प्लॉट मिला है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »