17 Apr 2021, 08:19:17 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

टोक्यो ओलम्पिक में भारतीय पहलवान जीतेंगे चार पदक: बृजभूषण

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 21 2021 4:26PM | Updated Date: Feb 21 2021 4:26PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

जालंधर। भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह का मानना है कि भारतीय पहलवान इस साल जुलाई अगस्त में होने वाले टोक्यो ओलम्पिक में चार पदक जीतेंगे। बृजभूषण ने यह बात लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी जालंधर में शनिवार से शुरू हुई दो दिवसीय नेशनल ग्रीको रोमन कुश्ती चैंपियनशिप से पहले रेफरी क्लिनिक मीटिंग के दौरान सभी तकनीकी अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कही। बृजभूषण ने उम्मीद जताई कि पिछले ओलंपिक गेम्स में भारत को कुश्ती में एक पदक मिला था, लेकिन इस बार चार खिलाड़ी ओलंपिक में देश के लिए पदक जीतेंगे।
 
उन्होंने कहा कि ईमानदारी और अनुशासन एक नैतिक मूल्य है और खेल में इसका शत प्रतिशत पालन होना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारतीय खेल संस्कृति के अनुसार, शायद ही कोई ऐसा खिलाड़ी हो जिसे बाल्यावस्था में उसके प्रशिक्षकों और अविभावकों ने ‘ईमानदार’ और अनुशासन में रहने की शिक्षा न दी हो। भारतीय कुश्ती संघ की तरफ से जगजीत रेसलिंग एकेडमी की अगुआई में शनिवार को एलपीयू में 65वीं सीनियर ग्रीको रोमन नेशनल रेसलिंग चैंपियनशिप शुरू हुई। इस दो दिवसीय इस चैंपियनशिप में पूरे देश से 300 से भी ज्यादा पहलवान अलग-अलग 10 भारवर्ग में भाग ले रहे हैं। इस दौरान तकनीकी अधिकारियों को ईमानदारी से निर्णय लेने  व टीम में आए पहलवानों को अनुशासन में रहकर कुश्ती मुकाबले खेलने के लिए अध्यक्ष ने प्रेरित किया।
 
चैंपियनशिप में मुख्यातिथि के रूप में सांसद चौधरी संतोख सिंह, विधायक गुरप्रताप वडाला, रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के प्रधान व सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने शिरकत की। सांसद बृजभूषण ने बताया कि वह एलपीयू में इंटरनेशनल स्तर का रेसलिंग कंपीटिशन भी करवाने पर विचार कर रहे हैं। इस दौरान एलपीयू के अध्यक्ष रमेश मित्तल मौजूद रहे। यहां पद्मश्री पहलवान करतार सिंह, आईजी रिटायर्ड, पंजाब कुश्ती संस्था के जनरल सेक्रेटरी एडीसीपी जगजीत सिंह, ग्रुप कैप्टन अमरदीप सिंह, कुलविंदर थियाड़ा, अर्जुन अवार्डी रणधीर सिंह, कृपाशंकर बिश्नोई, पवन कुमार, मनदीप सिंह आदि उपस्थित थे।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »