18 May 2022, 12:25:20 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

टीम इंडिया की बड़ी कमजोरी आई सामने भारत को 2 दिग्गजों का रिप्लेसमेंट

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 23 2022 11:27AM | Updated Date: Jan 23 2022 11:27AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने कहा कि टीम को 'विकेट लेने वाले' स्पिनरों पर ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा जब भी आपके स्पिनर या कोई और मिडिल ओवर्स के गेंदबाज 15-40 ओवर में विकेट नहीं लेंगे तो मैच आपके हाथ से निकल जाएगा। हरभजन सिंह ने कहा मेरा मानना है। कि टीम इंडिया को यह पता लगाने की जरूरत है। कि कौन से स्पिनर उन्हें विकेट दिला सकते हैं। हरभजन ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो में कहा, 8 ओवर में 60 रन या 9 ओवर में 70 रन, कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन इस दौरान उन्हें 3 विकेट मिलने चाहिए. आप बीच के ओवरों में विकेट लिए बिना कामयाब नहीं होंगे। जहां दक्षिण अफ्रीका के स्पिनरों ने दोनों वनडे मैचों में 33.37 के औसत से आठ विकेट लिए हैं। वहीं भारतीय स्पिनरों ने 111 के औसत से सिर्फ 2 विकेट लिए हैं। अब सीरीज का आखिरी मैच रविवार को न्यूलैंड्स क्रिकेट ग्राउंड में होगा। हरभजन को उम्मीद है

कि भारत अपने अगले दौर में अच्छा प्रदर्शन करेगा। हरभजन सिंह ने कहा अब, तीसरा मैच जीतना भारतीय टीम के लिए बेहद अहम है। क्योंकि जब आप एक टूर्नामेंट खेलते हैं। और आप जानते हैं। कि आप हार गए हैं। तो आखिरी मैच जीतना टीम को अच्छा लगता है। मुझे उम्मीद है। कि भारतीय टीम कुछ बदलाव लाएगी. गेंदबाजी क्रम में कुछ ऐसे गेंदबाजों को लाना होगा जो विकेट लेने की कोशिश करें। हरभजन सिंह ने महसूस किया कि ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर का दोनों वनडे मैचों में बल्लेबाजी के मामले में अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा है। अय्यर आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हैं।

उन्होंने दोनों वनडे मैचों में क्रमश: 2 और 22 बनाकर छठे नंबर पर बल्लेबाजी की है। हरभजन सिंह ने  कहा वेंकटेश अय्यर को खेलना चाहिए या नहीं, इस बारे में बहुत सारी बातें हुई हैं। मुझे लगता है। कि अगर आप उसे मैच में खेलते हुए देखना चाहते हैं। तो उसे सलामी बल्लेबाज के रूप में टीम की तरफ से उतारें, क्योंकि वह एक सलामी बल्लेबाज है। पांचवें और छठे नंबर पर एक दबाव रहता है। इसलिए एमएस धोनी और युवराज सिंह इतने बड़े खिलाड़ी हैं। क्योंकि उन्होंने उन पदों से बहुत सारे मैच जीते हैं। और शायद भारत को अभी भी उनकी जगह नहीं मिली है।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »