05 Dec 2021, 08:48:13 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

राकेश टिकैत बोले- सफल रहा ‘रेल रोको’ आंदोलन, आगे की रणनीति पर कही ये बड़ी बात

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 18 2021 8:30PM | Updated Date: Oct 18 2021 8:30PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। किसान नेता राकेश टिकैत ने ‘रेल रोको’ आंदोलन को सफल बताया।टिकैत ने कहा कि आज का किसानों का रेल रोको आंदोलन सफल रहा और अब आगे की रणनीति के लिए कार्यक्रम बनाएंगे। उन्होंने कहा कि जब तक लखीमपुर खीरी मामाले में आरोपी गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी इस्तीफा नहीं देता और उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाता, हम पीछे नहीं हटेंगे। वो (गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी) आईपीसी की धारा 120 (बी) के तहत आरोपी हैं, ऐसे में वो खुले में नहीं घूम सकते। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा, गृहराज्य मंत्री जांच को प्रभावित करेंगे।क्योंकि मामला उनके खिलाफ है, इसलिए वह खुद को बचाने की कोशिश करेंगे। भारत सरकार को उनका इस्तीफा लेना चाहिए। अगर वह निर्दोष साबित होते हैं तो वे उन्हें फिर से मंत्री बना सकते हैं। दरअसल, संयुक्त किसान मोर्चा ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के संबंध में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने तथा आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर 6 घंटे के ‘रेल रोको’ आंदोलन की घोषणा की थी। इसके बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार को देशभर में ‘रेल रोको’ आंदोलन चलाया, जिसका असर कई राज्यों में देखने को मिला।
 
इस आंदोलन के कारण बड़ी संख्या में ट्रेनों को रद्द करना पड़ा, वहीं कुछ ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द किया गया। इसके कारण उत्तर पश्चिम रेलवे के अधीन आने वाले कुछ खंडों में रेलों के आवागमन पर भी पड़ा। उत्तर रेलवे के सीपीआरओ ने कहा, ‘उत्तर रेलवे मंडल में 130 स्थानों पर प्रदर्शन का असर पड़ा है और 50 ट्रेनों का संचालन बाधित है। राजस्थान में प्रदर्शन से बीकानेर मंडल के हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर में रेल आवाजाही बाधित रही। एनडब्ल्यूआर के एक प्रवक्ता ने बताया कि भिवानी-रेवाड़ी, सिरसा-रेवाड़ी, लोहारू-हिसार, सूरतगढ़-बठिंडा, सिरसा-बठिंडा, हनुमानगढ़-बठिंडा, रोहतक-भिवानी, रेवाड़ी-सादुलपुर, हिसार-बठिंडा, हनुमानगढ़-सादुलपुर और श्रीगंगानगर-रेवाड़ी प्रखंडों पर रेल यातायात प्रदर्शन के कारण बाधित रहा।
 
केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन का नेतृत्व कर रहे किसान संघों के संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने एक बयान में कहा था, ‘लखीमपुर खीरी मामले में जब तक न्याय नहीं मिल जाता, तब तक प्रदर्शन तेज किए जाएंगे.’ एसकेएम ने बताया था कि लखीमपुर खीरी हिंसा के संबंध में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त और गिरफ्तार करने की मांग को लेकर रेल रोको प्रदर्शन के दौरान सोमवार को सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक ट्रेन यातायात रोका जाएगा.लखीमपुर खीरी में 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में मारे गए 8 लोगों में से 4 किसान थे जिन्हें कथित तौर पर भाजपा कार्यकर्ताओं को ले जा रहे वाहन ने कुचल दिया था।किसानों ने दावा किया कि एक वाहन में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा का पुत्र आशीष मिश्रा था।आशीष मिश्रा को इस मामले में 9 अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »