24 Oct 2021, 06:00:37 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

महंत नरेंद्र गिरी का आज होगा अंतिम संस्कार, उनके शिष्य आनंद गिरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 21 2021 10:55AM | Updated Date: Sep 21 2021 11:09AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

प्रयागराज। महंत नरेंद्र गिरी के निधन के समाचार से दुखी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अंतिम दर्शन के लिए मंगलवार को प्रयागराज जाएंगे। वहीं उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी मंगलवार सुबह 8:30 बजे महंत नरेंद्र गिरि के अंतिम दर्शन करने के लिए प्रयागराज जाएंगे। उन्होंने 21 सितंबर को उन्नाव 22 तारीख को चित्रकूट में अपने सरकारी कार्यक्रम स्थगित कर दिए थे। इस बीच महंत नरेंद्र गिरी मौत मामले पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के उपाध्यक्ष देवेंद्र सिंह ने कहा है कि मामले को सीबीआई (केंद्रीय जांच ब्यूरो) को सौंपा जाना चाहिए निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।
 
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष मंहत नरेन्द्र गिरी की मौत के मामले में उनके शिष्य आनंद गिरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। पुलिस प्रवक्ता ने मंगलवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बंधवा स्थित हनुमान मंदिर के व्यवस्थापक अमर गिरी की तरफ से सोमवार देर रात दी गयी तहरीर के आधार पर जार्जटाउन थाने में आनंद गिरी के खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की धारा 306 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। उनके खिलाफ आत्महत्या के लिए
 
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। उनका शव प्रयागराज स्थित अल्लापुर में बांघबरी गद्दी मठ के कमरे में फंदे से लटका मिला। उनके निधन की खबर फैलते ही मठ पर बड़ी संख्या में लोग पहुंचने लगे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले की पूरी जानकारी दी गई है। प्रमुख सचिव गृह ने दी पूरे मामले की रिपोर्ट उनको सौंपी है। जानकारी के अनुसार सीएम योगी आदित्यनाथ महंत नरेंद्र जी के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन के लिए मंगलवार सुबह 8:30 बजे प्रयागराज जाएंगे। वहीं, यूपी पुलिस की स्पेशल टीम हरिद्वार पहुंच गई है। यूपी पुलिस यहां महंत नरेंद्र के शिष्य आनंद गिरि से पूछताछ करेगी।
 
वहीं, उनकी मौत पर प्रधानमंत्री मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद, दिनेश शर्मा, भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव समेत विभिन्न दलों के लोग संत महात्माओं ने अपनी शोक संवदेनाएं जताई हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लिखा कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री नरेंद्र गिरि जी का देहावसान अत्यंत दुखद है। आध्यात्मिक परंपराओं के प्रति समर्पित रहते हुए उन्होंने संत समाज की अनेक धाराओं को एक साथ जोड़ने में बड़ी भूमिका निभाई। प्रभु उन्हें अपने श्री चरणों में स्थान दें। ओम शांति। गृहमंत्री अमित शाह ने लिखा कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री नरेंद्र गिरि जी का पूरा जीवन अध्यात्म व धर्म के प्रचार, उत्थान व मानव सेवा को समर्पित रहा। उनके देवलोकगमन से हमने सनातन संस्कृति का एक देदीप्यमान नक्षत्र खो दिया है। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें।
 
 
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री नरेंद्र गिरि जी महाराज के देहावसान से मुझे अत्यंत दुख हुआ है। उन्होंने सामाजिक उत्थान एवं सशक्तिकरण के लिए अपना समग्र जीवन समर्पित कर दिया। भारतीय सांस्कृतिक धारा में उनका योगदान अप्रतिम अविस्मरणीय रहा है। ओम शांति! केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने लिखा कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि जी का देहावसान अत्यंत दुखद है। उनको मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि। उन्होंने अपना सारा जीवन समाज की सेवा में लगाया है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति दे अनुयायियों को संबल दें। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने लिखा कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि जी का ब्रह्मलीन होना हम सभी के लिए अपूरणीय क्षति है। उनका सम्पूर्ण जीवन समाज को समर्पित रहा। प्रभु से प्रार्थना है कि दिवंगत पुण्यात्मा को अपने श्री चरणों में स्थान तथा शोकाकुल अनुयायियों को दु:ख सहने की शक्ति दें।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »