22 Apr 2021, 22:15:27 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

किसान आंदोलन अब हर वर्ग की लड़ाई अब हर वर्ग की लड़ाई बन चुका है : टिकैत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 27 2021 6:40PM | Updated Date: Feb 27 2021 6:41PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

श्रीगंगानगर। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि तीन महीने से चल रहा किसान आंदोलन अब किसानों की लड़ाई नहीं है बल्कि यह अब हर वर्ग की लड़ाई बन गई है। टिकैत आज गंगानगर जिले के पदमपुर कस्बे में संयुक्त किसान मोर्चा की महापंचायत में उमड़ आए हजारों किसानों को संबोधित कर रहे थे। 

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ शुरू हुआ यह संघर्ष अब हर वर्ग के लोगों का संघर्ष है बन गया है। उन्होंने कहा कि सरकार ऐसे ही 17 और कानून लाने वाली है, जिससे हर वर्ग के लोग प्रभावित होंगे। सरकार से यह लड़ाई लंबी चलेगी।किसानों को मोर्चे मजबूत बनाए रखने होंगे। देश के दूसरे इलाकों में भी मोर्चाबंदी करनी होगी।

टिकैत ने कहा कि वॉलमार्ट जैसी विदेशी कंपनियां खुदरा व्यापार को निगलने को तैयार बैठी हैं। शहरों में 5-7 मॉल में खुदरा व्यापार सिमट कर रह जाएगा। आने वाले दिनों में कोई दूध भी नहीं बेच सकेगा। दूध पहले कंपनियों को बेचना होगा। कंपनियां फिर मुनाफे के साथ दूध आम लोगों को बेचेंगी। 

संयुक्त मोर्चा के वरिष्ठ सदस्य गुरमीत सिंह चढूनी ने कहा कि खेत बचेंगे तो किसान बचेंगे। सभी किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य एमएसपी फसलों का नहीं मिलता है। इसमें लगभग 4 लाख  करोड का अंतर है। किसान सोचे कि अगर हर फसल में यह चार लाख करोड़ और उनकी जेबों में आए तो न केवल उन्हें आर्थिक संबल मिलेगा बल्कि हर वर्ग की भी आर्थिक स्थिति सुधरेगी।

यह चार लाख करोड़ किसानों के जरिए बाजार में आए महापंचायत में राकेश टिकैत को किसानों की ओर से हल भेंट और एक चित्र भेंट किया गया। राजस्थानी साफा पहनाकर राकेश टिकट सहित सभी किसान नेताओं का सम्मान किया गया। महापंचायत को राजस्थान जाट महासभा के प्रदेश अध्यक्ष राजाराम मील, ग्रामीण किसान मजदूर समिति के संयोजक रणजीतसिंह राजू ने भी संबोधित किया।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »