27 Nov 2022, 15:12:55 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

राहुल बुधवार को कन्याकुमारी से शुरू करेंगे ‘भारत जोड़ो यात्रा’

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 6 2022 5:28PM | Updated Date: Sep 6 2022 5:28PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

चेन्नई । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल के वायनाड से लोकसभा सांसद राहुल गांधी बुधवार को कन्याकुमारी के दक्षिणी सिरे से पार्टी की 3,500 किलोमीटर लंबी 150 दिवसीय ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का शुभारंभ करेंगे, जिसमें बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के भाग लेने की संभावना है। तमिलनाडु प्रदेश कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक पार्टी ने यात्रा को स्वतंत्र भारत में अब तक किए गए अभूतपूर्व जन संपर्क कार्यक्रम के रूप में पेश किया है। सूत्रों के मुताबिक गांधी मंगलवार की रात साढ़े 10 बजे चेन्नई पहुंचेंगे और कन्याकुमारी से श्रीनगर यात्रा के लिए रात भर शहर में रूकेंगे। गांधी कल सुबह प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के.एस. अलागिरि, सांसदों, विधायकों और अन्य पदाधिकारियों सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ शहर से लगभग 40 किलोमीटर दूर श्रीपेरंबदूर में अपने पिता और दिवंगत प्रधानमंत्री राजीव गांधी के स्मारक का दौरा करेंगे। बाद में वह एक प्रार्थना सभा में भी भाग लेंगे। गांधी इसके बाद शहर लौटेंगे और कल ही विमान से तूतीकोरिन जहां से वह यात्रा शुरू करने के लिए कन्याकुमारी जाएंगे।
 
इस यात्रा का उद्देश्य भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की ‘विभाजनकारी राजनीति’ का विरोध करना है और ‘फासीवादी भाजपा शासन’ की ओर लोगों का ध्यान आकर्षित करना है।यात्रा के शुभारंभ के मौके पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के अलावा कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, सीडब्ल्यूसी सदस्य, सांसद, विधायक और पार्टी के पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता शामिल होंगे।तमिलनाडु के पार्टी प्रभारी दिनेश गुंडू राव के अनुसार, यात्रा कुछ ऐसी है जिसके जरिये देश को ‘फासीवादी शासन’ से बाहर निकालने की आवश्यकता है।
 
उन्होंने कहा,“वे (भाजपा-आरएसएस) देश में एक व्यक्ति, एक भाषा व एक पार्टी के शासन के सिद्धांत पर काम कर रहे हैं। हम हर जगह हिंसा देख रहे हैं। कश्मीरी पंडित भी कश्मीर छोड़ना चाहते हैं। यह भाजपा की नीतियों और कार्यों के कारण है।” उन्होंने विश्वास जताया कि तमिलनाडु देश भर में यह संदेश देने के लिए लॉन्च पैड मुहैया कराएगा कि ‘फासीवादी शासन’ को उखाड़ फेंका जाना चाहिए। गांधी कन्याकुमारी में एक कार्यक्रम में भी भाग लेंगे जहां तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एवं द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन उन्हें राष्ट्रीय ध्वज सौंपेंगे और यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे। यात्रा के शुभारंभ से पहले गांधी कन्याकुमारी में विवेकानंद रॉक मेमोरियल, तिरुवल्लुवर स्टैच्यू और कामराज मेमोरियल भी जाएंगे।
 
महात्मा गांधी मंडपम में कार्यक्रम के बाद गांधी और अन्य कांग्रेस नेता एक जनसभा को संबोधित करेंगे। उनकी यात्रा देश के कोने-कोने से होकर गुजरेगी और अन्य राज्यों को कवर करने से पहले शुरू में दक्षिणी राज्यों को कवर करेगी। पार्टी ने गांधी सहित 118 नेताओं को ‘भारत यात्रियों’ के रूप में सूचीबद्ध किया है जो कन्याकुमारी और श्रीनगर के बीच की दूरी तय करेंगे। वे प्रतिदिन औसतन 20-25 किमी दूरी तय करेंगे। अलागिरि ने कहा कि राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन के नेता अलग-अलग दिनों में यात्रा में हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा,“यात्रा का आयोजन आरएसएस की विचारधारा से लड़ने के लिए किया जा रहा है, जिसके बारे में उन्होंने कहा कि यह लोगों को बांटने और देश में सनातन धर्म स्थापित करने की कोशिश कर रहा है।”
 
कांग्रेस के राष्ट्रीय समन्वयक के राजू ने कहा,“आज, संविधान पर हमला हो रहा है। इसलिए लोगों को एक करने के लिए संविधान को बचाना जरूरी है। तमिलनाडु कांग्रेस ने संविधान बचाने के इस संदेश को फैलाने का फैसला किया है। कांग्रेस का हर कार्यकर्ता तमिलनाडु के हर घर में जाएगा और भारत जोड़ो यात्रा के इस संदेश को फैलाएगा।” पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश के अनुसार मुख्य यात्रा के साथ-साथ असम, त्रिपुरा, बिहार, ओडिशा, सिक्किम, पश्चिम बंगाल और नागालैंड जैसे राज्यों में अलग-अलग छोटी भारत जोड़ो यात्राएं भी जारी रहेंगी। यात्रा की टैगलाइन ‘मिले कदम, जुड़े वतन’ है।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »