22 May 2022, 03:22:00 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

कोहली के कप्तानी छोड़ने पर बर्बाद होगी भारतीय टेस्ट टीम

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 17 2022 3:29PM | Updated Date: Jan 17 2022 3:29PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। टीम इंडिया के सबसे सफल टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने हाल ही में कप्तानी से इस्तीफा देकर वर्ल्ड क्रिकेट को हैरान कर दिया। किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट की भी कप्तानी छोड़ देंगे। जिसमें उनका बेहद शानदार रिकॉर्ड है। विराट कोहली के अचानक टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद BCCI इस सोच में डूबी है। कि आखिर किसे टेस्ट का नया कप्तान बनाया जाए 15 जनवरी 2022 से विराट कोहली टेस्ट टीम के भी कप्तान नहीं रहे. विराट कोहली के टेस्ट की कप्तानी छोड़ने के बाद भारतीय टेस्ट टीम बर्बाद भी हो सकती है. वो विराट कोहली ही थे। जो तब भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान बने थे, जब ICC रैंकिंग में टीम इंडिया 7वें नंबर पर थी. विराट कोहली ने कप्तानी संभालते ही टीम इंडिया की किस्मत बदल दी और उसे दुनिया की नंबर 1 टीम बना दिया!

विराट कोहली के टेस्ट की कप्तानी छोड़ने से भारतीय टेस्ट क्रिकेट ने बीते 7 सालों में जो कामयाबी हासिल की है। उस पर पानी फिर सकता है। टेस्ट में विराट का रिकॉर्ड लाजवाब है। विराट भारत के अब तक के सबसे सफल टेस्ट कप्तान है। लिहाजा उनकी टेस्ट कप्तानी पर उंगली नहीं उठाई जा सकती है। लेकिन विराट और बीसीसीआई (BCCI) के कथित विवाद के चलते आए विराट के इस फैसले से नुकसान सिर्फ भारतीय क्रिकेट का होने वाला है विराट कोहली 33 साल के हो गए हैं। कप्तानी से हटने के बाद बोर्ड से विराट की अनबन भी हो गई है। ऐसे में बतौर खिलाड़ी कोहली कितने दिनों तक टीम का हिस्सा होते हैं। ये देखने वाली बात होगी. भारतीय क्रिकेट के इतिहास में कप्तानी छोड़ने के बाद खिलाड़ी ज्यादा दिनों तक टीम का हिस्सा नहीं रह पाए हैं। बतौर कप्तान विराट कोहली का रिकॉर्ड शानदार है। विराट कोहली ने टीम इंडिया की कमान 68 टेस्ट मुकाबलों में संभाली है। जिसमें से उन्होंने 40 टेस्ट में जीत हासिल की है। और 17 टेस्ट हारे हैं। विराट के अलावा किसी भी भारतीय कप्तान ने इतने टेस्ट मुकाबले नहीं जीते हैं, यह किसी भी भारतीय कप्तान का यह रिकॉर्ड है. दूसरे नंबर पर 60 टेस्ट में 27 टेस्ट जीत के साथ महेंद्र सिंह धोनी हैं, बाद में सौरव गांगुली 49 टेस्ट में 21 जीत के साथ तीसरे नंबर पर हैं।

मैच : 68
जीत : 40
हार : 17
ड्रॉ : 11
विराट कोहली ने बतौर कप्तान अपनी बल्लेबाजी के भी जौहर दिखाए हैं। विराट ने 68 टेस्ट मैचों की 113 पारियों में 54.80 की औसत से 5864 रन बनाए हैं। विराट ने बतौर कप्तान 20 शतक जड़े हैं। और 18 अर्द्धशतक लगाए हैं। बतौर कप्तान रनों के मामले में भी विराट बाकी सभी कप्तानों से काफी आगे हैं। विराट के बाद 60 टेस्ट में 3454 रनों के साथ महेंद्र सिंह धोनी का नंबर आता है। वहीं तीसरे नंबर पर 47 टेस्ट में 3449 रनों के साथ महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर मौजूद हैं।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »