28 Nov 2021, 14:01:14 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

कश्मीर में शांति भंग करने की कोशिश करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा: शाह

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 24 2021 6:18PM | Updated Date: Oct 24 2021 6:18PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

जम्मू। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में शांति भंग करने की कोशिश करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। शाह ने यहां केंद्र शासित प्रदेश के साथ-साथ देश के लोगों से वादा किया कि प्रदेश में ऐसा माहौल तैयार किया जाएगा कि किसी निर्दोष व्यक्ति का खून न बहे। जम्मू-कश्मीर से संबंधित संविधान के अनुच्छेद 370 को समाप्त किये जाने के बाद पहली बार यहां संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में शांति भंग की कोशिश करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। 
 
उन्होंने कहा, ‘‘दशकों के बाद जम्मू- कश्मीर विकास के पथ पर अग्रस है और यह अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद ही हुआ है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर ने अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद एक नए युग में प्रवेश किया है और मैं आपको (लोगों को) बताना चाहता हूं कि दोनों क्षेत्रों के साथ न्याय किया जाएगा और केंद्र शासित प्रदेश के हर क्षेत्र में विकास किया जाएगा।’’ उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से संबंधित संविधान के अनुच्छे 370 तथा 35 ए को निरस्त कर राज्य को जम्मू-कश्मीर तथा लद्दाख नाम से दो केंद्र शासित प्रदेश में बांट दिया था। 
 
केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, ‘‘हम ऐसा माहौल तैयार करना चाहते हैं कि कोई भी नागरिक और निर्दोष न मारे जाएं।’’ उन्होंने कहा कि कई ताकतें जम्मू-कश्मीर में प्रगति की प्रक्रिया को बाधित करने की कोशिश कर रही हैं,  लेकिन ऐसा नहीं होने दिया जाएगा।
 
शाह ने कहा, ‘‘मैं फिर से कहना चाहता हूं कि जो लोग जम्मू-कश्मीर में शांति भंग करने की कोशिश कर रहे हैं, उनके साथ सख्ती से निपटा जाएगा।’’ केंद्रीय गृहमंत्री जम्मू-कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर हैं। वह शनिवार को श्रीनगर पहुंचे थे और रविवार को जम्मू आए हैं। उन्होंने दिन में शहर के बाहरी इलाके नगरोटा में आईआईटी परिसर का उद्घाटन किया। उन्होंने  आज यहां शहर के बाहरी इलाके नगरोटा में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी)  परिसर का उद्घाटन किया।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »