30 Jul 2021, 22:45:36 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

21 जून से नई वैक्सीनेशन नीति, दिल्ली सरकार ने किया पूरा इंतजाम: सत्येंद्र जैन

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 20 2021 5:57PM | Updated Date: Jun 20 2021 6:12PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है लेकिन हर दिन सामने आने वाले आंकड़ों की संख्या कम होने लगी है। पिछले पांच दिनों से देश में कोरोना वायरस के दैनिक मामले 70,000 से कम आ रहे हैं।  दिल्ली समेत देश भर में 21 जून से वैक्सीनेशन की नई नीति लागू हो रही है।  इसे लेकर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि केंद्र सरकार 45 साल से अधिक आयु वर्ग के लिए पहले भी वैक्सीन दे रही थी, अब 18-44 साल के लोगों के लिए भी देगी।  वैक्सीन लगवाने के काम अब भी राज्य सरकार ही करेगी।  एक बयान में सत्येंद्र जैन ने कहा, 'मुझे लगता है कि ये वाक्य कहीं से दिया गया है कि वैक्सीनेशन केंद्र के हाथ मे आ गया है।  केंद्र तो पहले भी वैक्सीन दे रहा था।  पहले 45+ की वैक्सीन दे रहा था अब 18-44 साल के लोगों के लिए भी देगा।  दिल्ली में पहले भी दिल्ली सरकार ही सबको वैक्सीन लगा रही थी, जितने सेंटर्स हैं सब दिल्ली सरकार के हैं और आगे भी दिल्ली सरकार के सेंटर्स में ही वैक्सीन लगाई जाएगी। '
 
 
सत्येंद्र जैन ने कहा कि वैक्सीनेशन ड्राइव को लेकर दिल्ली सरकार ने पूरा इंतजाम किया हुआ है।  हमने दिल्ली में सैकड़ों स्थायी सेंटर बनाए हुए हैं।  बूथ लेवल पर भी प्रोग्राम चल रहा है जिसके तहत बूथ लेवल पर लोगों को घर-घर जाकर वैक्सीनशन के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।  केंद्र सरकार 21 जून से वैक्सीन 18-44 साल वाले लोगों के लिए दे रही है बाकी जैसा पहले था वैसे ही रहेगा।  दिल्ली में कुल मिलाकर 300 से ज्यादा सेंटर चल रहे हैं। 
 
 
कोरोना की थर्ड-वेव पर एम्स निदेशक रणदीप गुलेरिया के बयान पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि अगर सभी लोग मास्क लगाने के नियम का पालन करेंगे तो इस लहर से बच सकते हैं।  ये हमारे व्यवहार पर निर्भर करता है।  सभी लोग पब्लिक प्लेस में जब जा रहे हैं तो मास्क लगाएं, बहुत बड़ी-बड़ी गैदरिंग न करें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें तो इससे बचा जा सकता है।  दूसरी लहर से कई चीजें हमने सीखी हैं।  दूसरी लहर में पता लगा कि ऐसा नहीं है कि केस बिल्कुल कम हो गए तो दोबारा नहीं होंगे।  दिल्ली में कोरोना की लहर के बाद एकदम से केस कम हो गए थे।  100 से कम आ गए थे तो लोगों को लगने लगा कोरोना तो चला गया है।  लेकिन जैसे ही बिल्कुल रिलैक्स होते हैं तो दोबारा बढ़ने के चांस होते हैं क्योंकि कोरोना खत्म नहीं हुआ है।  135 केस भी आ रहे हैं तो इसका मतलब है खत्म नहीं हुआ है। 
 
 
सार्वजनिक स्थानों में लापरवाही करने पर की जाएगी सख्ती
दिल्ली में बाजारों में और सार्वजनिक स्थानों में कोरोना नियमों का पालन न करने और हाईकोर्ट की टिप्पणी पर जवाब देते हुए सत्येंद्र जैन ने कहा कि इसे लेकर बिल्कुल सख्ती की जाएगी।  जो भी मास्क नहीं लगाएगा उसके खिलाफ कारवाई की जाएगी।  पुलिस और डीएम को निर्देश दिए गए हैं कि सख्ती से इसका पालन कराया जाए।  सभी से अपील है कि कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करें, मास्क जरूर लगाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।  पिछली बार दो ढाई महीने जब केस बिल्कुल कम थे तो लोग बिल्कुल लापरवाह हो गए थे और उसके बाद फिर से बहुत ही भयंकर लहर आई थी।  सबको कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करने की जरूरत है। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »