30 Jul 2021, 21:32:55 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

AIIMS: कोविड़ से हुई मौतों का Audit करें अस्पताल और राज्य, ताकि पारदर्शिता आए

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 12 2021 9:35PM | Updated Date: Jun 12 2021 9:35PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। देश में कोरोना से हुई मोतों को लेकर AIIMS के प्रमुख डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने बताया कि अस्पतालों और राज्यों को कोरोना संक्रमण से हुई मौतों का Audit करना चाहिए, ताकि पारदर्शिता आए। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से लड़ने के लिए रणनीति बनाने के भारत के प्रयासों में अस्पतालों और राज्य सरकारों द्वारा कोरोना मृतों की गलत जानकारी अनुपयोगी हो सकती है। इन परिस्थितियों में कोरोना से होने वाली मृत्यु दर की पारदर्शिता के लिए इसको Audit  करना होगा।
 
AIIMS के प्रमुख डॉक्टर रणदीप गुलेरिया की टिप्पणी उन रिपोर्ट्स और विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा मौतों की संख्या को कम करने के आरोपों के बीच आई है। MP का उदाहरण लें तो अप्रैल माह में वहां पर प्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए कोरोना से मौत के आंकड़ों और घाटों पर होने वाले कोरोना शवों के अंतिम संस्कार के आंकड़ों के बीच काफी अंतर देखने को मिला था।  'मान लीजिए कि एक व्यक्ति की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो जाती है और अगर उसे कोरोना होता है, तो हार्ट अटैक का कारण कोविड हो सकता है। इसलिए, आपने इसे नॉन-कोविड मृत्यु के रूप में गलत वर्गीकृत किया होगा। इसे सीधे कोविड से जोड़ने के बजाय आप इसे हृदय की समस्या के रूप में देख रहे हैं। केरल विधानसभा ने हाल ही में इस बात पर बहस की थी कि कौन तय करे कि कोई मरीज कोविड से मरा है या नहीं।
 
AIIMS के प्रमुख डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने  कहा कि सभी अस्पतालों और राज्यों को Covid -19 Death Audit करने की आवश्यकता है, क्योंकि हमें यह जानना होगा कि मृत्यु दर के कारण क्या हैं और हमारी मृत्यु दर को कम करने के लिए क्या किया जा सकता है। जब तक हमारे पास स्पष्ट आंकड़े नहीं होंगे, हम अपनी मृत्यु दर को कम करने की रणनीति विकसित नहीं कर पाएंगे। डॉक्टर गुलेरिया ने यह बात  Corona तीसरी लहर की तैयारी की ओर इशारा करते हुए कही। वायरस का उत्परिवर्तन और मानव व्यवहार। दुनियाभर में और विशेष रूप से भारत में महामारी की कई लहरें क्यों हैं। वायरस विकसित होता है क्योंकि वह अपने स्वभाव में है। हमारी चिंता यह है कि आप संक्रमित हो सकते हैं लेकिन आपको गंभीर बीमारी नहीं होनी चाहिए।  Vaccine आपको इससे बचाती है। Vaccine आपको कई गंभीर बीमारियों से बचाता है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »