14 Jun 2021, 20:04:59 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

ताउते तूफान : गुजरात, दीव के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 17 2021 12:10AM | Updated Date: May 17 2021 12:10AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। भारतीय मौसम विभाग ने रविवार की शाम को कहा कि ‘बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान ताउते पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर स्थित है और पिछले छह घंटों के दौरान लगभग 19 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है। तूफान के खतरे को देखते हुए गुजरात एवं दीव के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 

आईएमडी के अनुसार, शाम 0530 बजे यह 16.7 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 72.5 डिग्री पूर्वी देशांतर के पास पूर्व मध्य अरब सागर पर केंद्रित था। यह पंजिम-गोवा से लगभग 190 किमी उत्तर-पश्चिम में, मुंबई से 270 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में, वेरावल (गुजरात) से 510 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व, दीव से 470 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व और कराची (पाकिस्तान) से 700 किमी दक्षिण-पूर्व में स्थित था।

विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान इसके और तेज होने की संभावना है। विभाग ने कहा कि इसके उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 17 तारीख की शाम को गुजरात तट तक पहुंचने और 18 मई की सुबह पोरबंदर और महुवा (भावनगर जिला) के बीच गुजरात तट को पार करने की संभावना है। तूफान एवं सिस्टम की निगरानी डॉपलर मौसम रडार गोवा द्वारा की जा रही है।

तूफान के कारण गुजरात के तटीय जिलों में भारी वर्षा होने की संभावना है, जिसमें जूनागढ़ और गिर सोमनाथ में भी अत्यधिक भारी वर्षा और सौराष्ट्र कच्छ, सोमनाथ, पोरबंदर, देवभूमि द्वारका, अमरेली, राजकोट, जामनगर और दीव जिलों में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा शामिल है। इसीलिए गुजरात एवं दीव में विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। 

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 42 टीमों को पहले से तैनात किया है जो छह राज्यों में नावों, पेड़ काटने वालों, दूरसंचार उपकरणों आदि से लैस हैं और 26 टीमों को स्टैंडबाय पर रखा है।

भारतीय तटरक्षक बल और नौसेना ने राहत, खोज तथा बचाव कार्यों के लिए जहाजों और हेलीकॉप्टरों को तैनात किया है, जबकि वायु सेना और इंजीनियर टास्क फोर्स इकाइयां भी अपने पूरे संसाधनों, विमानों, नौकाओं और बचाव उपकरणों के साथ तैनाती के लिए तैयार हैं। मानवीय सहायता और आपदा राहत इकाइयों के साथ सात जहाज पश्चिमी तट पर स्टैंडबाय पर हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »