22 Apr 2021, 23:06:50 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

मार्च में कर के रूप में 16000 करोड़ रूपये राजस्व की प्राप्ति : वित्तमंत्री

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 7 2021 12:32AM | Updated Date: Apr 7 2021 12:35AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में माह मार्च में मुख्य कर-करेत्तर राजस्व वाले मदों में कुल 16,476.33 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है जबकि वर्ष 2019-20 के मार्च माह में 13,445.85 करोड़ की प्राप्ति हुयी थी। खन्ना ने पत्रकारों को बताया कि इस प्रकार माह में कर-करेत्तर राजस्व वाले महत्वपूर्ण मदो में वर्ष 2020 के मार्च महीने की तुलना में 3030.48 करोड़ रूपये की वृद्धि हुयी है।

वित्त मंत्री ने बताया कि जीएसटी एवं वैट के अन्तर्गत वर्ष 2020-21 में माह मार्च में 8769.15 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है, जो माह मार्च में निर्धारित लक्ष्य प्राप्ति का 103.5 प्रतिशत है। इसमें जीएसटी के अन्तर्गत 5329.82 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है, जो निर्धारित लक्ष्य का 114.10 प्रतिशत है। इसी प्रकार वैट के अन्तर्गत 3439.33 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है, जो मार्च 2020 की प्राप्ति से 626.28 करोड़ रूपये अधिक है।

उन्होने बताया कि आबकारी के मद में वित्तीय वर्ष 2020-21 के माह मार्च में 4357.05 करोड़ रूपये की राजस्व प्राप्ति हुयी है, जो माह मार्च में निर्धारित लक्ष्य का 114.7 प्रतिशत है। माह मार्च 2020 में इसी में मद में 1838.45 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी थी। इस प्रकार वर्ष 2021 के माह मार्च में वर्ष 2020 के माह मार्च की तुलना में आबकारी मद में 2518.60 करोड़ रूपये अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है। स्टाम्प तथा निबन्धन के मद में वित्तीय वर्ष 2020-21 के माह मार्च में 2177.54 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ है, जो माह मार्च के निर्धारित लक्ष्य का 105.90 प्रतिशत है।

वित्त मंत्री ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 के माह मार्च में इस मद में 930.48 करोड़ रूपये प्राप्त हुये थे। इस प्रकार स्टाम्प एवं निबन्धन के मद में माह मार्च में वित्तीय वर्ष 2019-20 की तुलना में वित्तीय वर्ष 2020-21 में 1247.06 करोड़ रूपये अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है। इसी प्रकार परिवहन के मद में वित्तीय वर्ष 2020-21 के माह मार्च में 740.95 करोड़ रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ है, जो इस माह में राजस्व प्राप्ति के निर्धारित लक्ष्य का 100.80 प्रतिशत है।

खन्ना ने बताया कि प्रदेश की आर्थिक गतिविधियां कोविड-19 महामारी के कारण काफी प्रभावित हुयी। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में कुल मुख्य कर राजस्व प्राप्ति लक्ष्य 1,66,021 करोड़ रूपये के सापेक्ष 1,19,284.69 करोड़ रूपये की प्राप्ति हुयी है, जो निर्धारित लक्ष्य का 71.80 प्रतिशत है। वित्तीय वर्ष 2019-20 में कर राजस्व प्राप्ति के निर्धारित लक्ष्य का 87.9 प्रतिशत की प्राप्ति हुयी थी। 

उन्होंने बताया कि करेत्तर राजस्व प्राप्ति के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 में निर्धारित लक्ष्य की 55.10 प्रतिशत की प्राप्ति हुयी है। उन्होने कहा कि कोरोना का संक्रमण पुन: बढ़ रहा है। इसके दृष्टिगत सभी मेडिकल कालेजों को बेड्स की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए गये है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में केजीएमयू में 223 आईसीयू बेड व 251 आइसोलेशन बेड की व्यवस्था है। शीघ्र ही 29 आईसीयू बेड की व्यवस्था और   हो जाएगी जिससे केजीएमयू में आईसीयू के 252 बेड उपलब्ध हो जाएंगे।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »