15 May 2021, 16:08:30 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Health

जानिए ऑक्सीजन की कमी होने के लक्षण, कारण और उपाय

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 29 2021 7:25PM | Updated Date: Apr 29 2021 7:25PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

हेल्‍थ डेस्‍क। यदि किसी भी मरीज को ऐसा लगता है कि उसका ऑक्‍सीजन लेवल कम हो रहा है तो उसे बेड या जमीन पर पेट के बल सोने के लिए कहा जाता है। इसे प्रोन पॉजिशिनिंग कहा जाता है। पेट के बल लेटने से ऑक्‍सीजन लेवल तेजी से बढ़ता है। इस पॉजिशन में मरीज का पेट बिस्तर पर और पीठ ऊपर रहना चाहिए। इससे फेफड़े तेजी से काम करने लगते हैं और सांस लेने में राहत मिलती है।
नए कोरोना वेरिएंट ने कई मरीजों की जिंदगी ले ली और लगातार लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। कई मरीज ऑक्सीजन की कमी से दम तोड़ रहे हैं तो कई लोग घर में ही ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए एक से बढ़कर एक उपाय कर रहे है। लेकिन, आपने कभी सोचा है कि ऑक्सीजन की अचानक कमी होने से मरीज के बर्ताव में क्या बदलाव आने लगता है। 
 
नए कोरोना के आते ही मार्केट में ऑक्सीजन चेक करने वाली मशीन पल्स ऑक्सीमीटर की डिमांड अचानक से बढ़ गई है. यह एक तरह का डिवाइस है जिसे उंगली में लगाते ही ऑक्सीजन का लेवल बता देता है. यदि रीडिंग में 94 से ऊपर दिखे तो खतरे से बाहर माना जाता है. वहीं, 90-93 तक दिखने पर खतरा बढ़ते माना गया है. हालांकि, ऐसी स्थिति में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बताए गए Proning Exercise को आप घर में कर सकते है. ऐसा दावा है कि इससे ऑक्सीजन लेवल बढ़ता है. जबकि, 80 से 89 के बीच रहने पर अलार्मिंग सिचुएशन माना जाता है. इस कंडीशन में मरीज को फौरन ऑक्सीजन चढ़ाने की जरूरत पड़ती है.
 
ऑक्सीजन लेवल कम होने के लक्षण 
 
ऑक्सीजन लेवल यदि सही रहा तो लाल या गुलाबी रंग में आपका चेहरा ग्लो करता रहता है। 
 
ऑक्सीजन लेवल गिरते ही मरीज की छाती में अचानक से दर्द हो सकता है।
 
सांस लेने में तकलीफ होने लगती है।
 
बेचैनी सी महसूस होने लगेगी।
 
असहनीय सिर दर्द चालू हो जाएगा, और
लगातार खांसी से भी मरीज परेशान रह सकता है।
 
शरीर में ऑक्सीजन की कमी के कारण
 
शरीर में ऑक्सीजन की कमी के कई कारण होते हैं, जो व्यक्ति की लाइफस्टाइल पर निर्भर करते हैं. जो लोग बहुत अधिक आलस से भरपूर जीवनशैली जीते हैं यानी फिजिकल ऐक्टिविटी नहीं करते हैं, उनके शरीर में भी ऑक्सीजन की कमी हो जाती है।
 
जो लोग बहुत अधिक शारीरिक श्रम करते हैं लेकिन उसके हिसाब से डायट नहीं लेते हैं, उनके शरीर में भी ऑक्सीजन की कमी हो सकती है।
 
जिन लोगों के भोजन में आयरन की मात्रा कम होती है अगर वे लंबे समय तक इसी तरह का भोजन लेते रहें तो उनके शरीर में भी ऑक्सीजन की कमी हो सकती है. क्योंकि फेफड़ों सहित पूरे शरीर में ऑक्सीजन का प्रवाह करने में आयरन महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
 
ऐसे ऑक्सीजन लेवल को बढ़ा सकते हैं
 
ऑक्‍सीजन लेने में परेशानी होने पर पेट के बल सामने की तरफ लेट जाएं
 
सिर, कमर, कुल्हे व पैरों के नीचे कई तकिया रखें
 
आपका सिर आरामदायक स्थिति में हो
 
एक से दो घंटे में अपने पॉजिशन को बदल लें
 
समय-समय पर ऑक्सीजन लेवल की जांच करते रहें
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »