14 Jun 2021, 19:31:24 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

Cyclone Tauktae: वानखेड़े स्टेडियम को कीया तबाह, इंडियन कोच रवि शास्त्री ताउते पर बोलें...

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 18 2021 3:16PM | Updated Date: May 18 2021 9:03PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई। समुद्री तूफान ताउते ने  देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में स्थित वानखेड़े स्टेडियम को गहरा नुकसान पहुंचाया है और स्टेडियम की 16 फीट की साइटस्क्रीन को तहस-नहस कर डाला। ताउते तूफान ने 90 किलो प्रतिघंटे की रफ्तार से दस्तक दी। उसने मुंबई और आसपास के इलाकों में जमकर तबाही मचाई।  कई इलाकों में पानी भर गया।  तो कई मकान ढह गए।  कई घरों की छतें भी उड़ा ले गया ताउते।  ताउते की मचाई तबाही का खौफनाक मंजर देखने के बाद हर कोई हिल गया।  इस तूफान ने लोगों के घर उजाड़े, उनके जान, माल को नुकसान पहुंचाया तो साथ ही क्रिकेट को भी नुकसान पहुंचाया। 

 
टीम इंडिया के प्रमुख कोच रवि शास्त्री  का सिर भी ताउते तूफान की ताकत देख चकराता दिखा।  ताउते जब मुंबई को तबाह और बर्बाद कर रहा था, उस वक्त रवि शास्त्री ट्विटर पर उसके जोर का वर्णन अपने शब्दों में कर रहे थे । 
 
टीम इंडिया के प्रमुख कोच रवि शास्त्री लिखा-
 
'तूफान तो तूफान होता है बहुत खतरनाक था।  ये अब भी जारी है।  हमारे फींगर क्रॉस हैं इस उम्मीद के साथ कि तूफान ज्यादा तबाही न मचाए।’’ रवि शास्त्री बेशक ताउते से ज्यादा तबाही की उम्मीद न कर रहे हों. लेकिन मुंबई से गुजरात का रुख करते करते उसने वानखेड़े स्टेडियम को नुकसान पहुंचा ही दिया।  ताउते तूफान ने वानखेड़े की 16 फीट की साइटस्क्रीन को तहस-नहस कर डाला।  मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने  बताया कि नॉर्थ स्टैंड पर लगी साइट स्क्रीन को तूफान से नुकसान हुआ है। हवा के तेज दबाव से वो गिर गई है।
 
दक्षिणी राज्यों में कहर मचाने के बाद ताउते तूफान ने अब पश्चिम का रुख कर लिया है। साइक्लोन ताउते के आज गुजरात के तटीय इलाकों से टकराने की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग ने बताया कि सोमवार तक यह बेहद ताकतवर चक्रवाती तूफान के रूप में बदल चुका है। महाराष्‍ट्र, केरल, कर्नाटक जैसे तटीय इलाकों से टकराने के बाद तूफान ने रात करीब 9 बजे 185 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गुजरात में दस्तक दी। रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। लाखों लोगों की तटीय इलाकों से शिफ्ट कर दिया गया है। एनडीआरएफ, पुलिस एवं तटरक्षक बल की टीमों को तैनात कर दिया गया है। स्वास्थ्यकर्मियों को इस चक्रवाती तूफान से पैदा होने वाली किसी भी आपात स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा गया है। तूफान की गंभीरता को देखते हुए अस्पतालों की पॉवर सप्लाई, ऑक्सिजन सप्लाई, कोविड केयर यूनिट्स पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया गया है। सरकार ने कोविड-19 मरीजों का उपचार कर रहे अस्पतालों से बिजली का बैकअप सुनश्चित करने को कहा गया है। किसी आपात स्थिति के मद्देनजर वायुसेना के 16 मालवाहक विमान और 18 हेलिकॉप्टर भी तैयार हैं। इससे पहले, महाराष्ट्र के मुंबई, उत्तरी कोंकण, ठाणे और पालघर के हिस्सों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »