10 May 2021, 23:54:16 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Cricket

IPL 2021 : ऋषभ पंत की कप्तानी के फैन हुए पृथ्वी शॉ, तारीफ में कही ये बड़ी बात

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Apr 11 2021 6:47PM | Updated Date: Apr 11 2021 6:48PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

पृथ्वी शॉ ने मैच के बाद कहा, "हम वास्तव में श्रेयस अय्यर को याद कर रहे हैं। उन्होंने टीम का बहुत अच्छा नेतृत्व किया। हालांकि, ऋषभ पंत बहुत स्मार्ट हैं। वह निडर हैं और खेल का आनंद लेता है। वह मैदान पर बहुत मनोरंजक है और एक कप्तान के रूप में बहुत शांत हैं। वह टीम के लिए शानदार काम कर रहे हैं।"

दिल्ली कैपिटल्स के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने शनिवार को चेन्नई सुपर किंग्स पर सात विकेट से जीत में अहम भूमिका निभाई। यह बतौर कप्तान ऋषभ पंत का पहला मैच था। शॉ ने कहा कि उनकी टीम को नियमित कप्तान श्रेयस अय्यर की कमी खली, लेकिन पंत एक बेहतरीन कप्तान हैं।

CSK के खिलाफ मैच में दिल्ली के नए कप्तान पंत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। उनकी टीम उनके गुरू रहे महेंद्र सिंह धोनी की सुपर किंग्स को 188 रनों पर रोकने में सफल रही और फिर शिखर धवन (85 रन, 54 गेंद,10 चौके, 2 छक्के) और पृथ्वी शॉ (72 रन, 38 गेंद, 9 चौके, 3 छक्के) के बीच पहले विकेट के लिए हुई 138 रनों की साझेदारी के दम पर सात विकेट से जीत दर्ज की।

शॉ ने मैच के बाद कहा, "हम वास्तव में श्रेयस अय्यर को याद कर रहे हैं। उन्होंने टीम का बहुत अच्छा नेतृत्व किया। हालांकि, ऋषभ पंत बहुत स्मार्ट हैं। वह निडर हैं और खेल का आनंद लेता है। वह मैदान पर बहुत मनोरंजक है और एक कप्तान के रूप में बहुत शांत हैं। वह टीम के लिए शानदार काम कर रहे हैं।"

ऑस्ट्रेलिया में खराब प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम से बाहर चल रहे शॉ ने कहा कि अभी वह टीम इंडिया में वापसी के बारे में नहीं सोच रहे हैं। इससे पहले शॉ ने विजय हजारे ट्राफी में शानदार प्रदर्शन करते हुए चार शतक लगाए थे। अब शॉ ने आईपीएल के इस सीजन के पहले ही मैच में शानदार अर्धशतक जड़ा है।

शॉ ने कहा, "मैं अभी भारतीय टीम के बारे में ज्यादा नहीं सोच रहा हूं, क्योंकि टीम से बाहर होना सचमुच काफी निराशाजनक था। मैं उससे आगे बढ़ गया हूं। मैंने मान लिया है कि मेरी बैटिंग तकनीक में कमी है और मुझे सबसे पहले उसे सुधारना है। मुझे इस पर काम करते हुए अपने आप में सुधार लाना है। इसके लिए मैं किसी तरह का बहाना नहीं बना सकता।"

दिल्ली की टीम बीते सीजन में फाइनल तक पहुंची थी जबकि सुपर किंग्स प्ले ऑफ में भी नहीं पहुंच सकी थे। दिल्ली के खिलाफ धोनी का व्यक्तिगत प्रदर्शन भी निराशाजनकर रहा। वह दो गेंदें खेलकर खाता खोले बगैर पवेलिटन लौट गए।

अपनी वापसी वाली पारी के बारे में पृथ्वी शॉ ने कहा, "हमने जो प्लान बनाया, उस पर अमल भी किया। ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद ड्रॉप होने के बाद मैं प्रवीण आमरे सर के पास गया। अपनी बैटिंग पर चर्चा की और फिर घरेलू मैच खेले, जिसका मुझे फायदा हुआ। मुझे बहुत खुशी है कि मैं वापसी कर सका। मेरी बैटिंग में जो भी कमी है, मैं उस पर काम कर रहा हूं।"

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »