11 May 2021, 00:10:11 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

फाफ डु प्लेसिस ने लिया टेस्‍ट क्रिकेट से संन्‍यास, लिखा ये भावुक पत्र

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 17 2021 12:27PM | Updated Date: Feb 17 2021 12:27PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्‍ली। दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम के महान बल्लेबाजों में से एक फाफ डु प्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। डु प्लेसिस ने कहा कि वह ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ खेल के सबसे लंबे प्रारूप में संन्‍यास लेना चाहते थे, लेकिन सीरीज रद्द होने के बाद से उन्होंने संनयास का फैसला किया। डु प्लेसिस ने सोशल मीडिया पर एक बयान भी जारी किया, क्योंकि उन्होंने बड़े फैसले की घोषणा की। बयान में डु प्लेसिस ने क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में खेल जारी रखने के अपने इरादे व्यक्त किए।
 
विशेष रूप से वह वर्ष 2021 और 2022 में होने वाले टी-20 विश्व कप में खेलेंगे। अनुभवी बल्लेबाज ने वनडे क्रिकेट पर प्रारूप जारी रखने का फैसला किया है। उन्‍होंने लिखा, "यह हम सभी के लिए एक शोध का वर्ष रहा है। समय अनिश्चित था, लेकिन यह मेरे लिए कई मामलों में स्पष्टता लेकर आया। मेरा दिल साफ है और एक नए अध्याय में चलने का समय सही है। खेल के सभी प्रारूपों में अपने देश के लिए खेलने के लिए सम्मान की बात है, लेकिन मेरे लिए टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का समय आ गया है।''
 
डु प्लेसिस ने कहा, "अगर किसी ने मुझे 15 साल पहले कहा होता कि मैं दक्षिण अफ्रीका के लिए 69 टेस्ट मैच खेलूंगा और टीम की कप्तानी करूंगा, तो मुझे विश्वास नहीं होता। मैं आशीर्वाद से भरे टेस्ट करियर के लिए पूरी तरह से आभारी हूं। हर ऊंच-नीच ने मुझे उस आदमी के रूप में आकार दिया है, जिसे मैं आज के रूप में खड़ा होने पर गर्व महसूस करता हूं। सभी चीजों में, उन उदाहरणों ने उन अच्छे लोगों के लिए काम किया, जिनके बारे में मुझे विश्वास है कि मैं आज हूं।"
 
उन्‍होंने कहा, "अगले दो साल ICC T20 विश्व कप के वर्ष हैं। इस वजह से मेरा ध्यान इस प्रारूप में ट्रांसफर पर है और मैं दुनिया भर में जितना संभव हो उतना खेलना चाहता हूं ताकि मैं सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी बन सकूं। मैं अगले दो महीनों में सीएसए के साथ बातचीत करूंगा।'' डु प्लेसिस ने नवंबर 2012 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पर्दापण किया था और रावलपिंडी में पाकिस्तान के खिलाफ खेल के सबसे शुद्ध प्रारूप में अपना आखिरी मैच खेला था।
 
उन्होंने पाकिस्तान में बल्ले से खराब प्रदर्शन करते हुए 10, 23, 17 और 5 का स्कोर बनाया था। टेस्‍ट प्रारूप में डु प्लेसिस ने 40.02 की औसत से 4,163 रन बनाए, जिसमें 10 शतक और 21 अर्धशतक उनके नाम थे। डु प्लेसिस टेस्ट में एक बार दोहरे शतक से चूक गए थे। उन्‍होंने पिछले साल सेंचुरियन में श्रीलंका के खिलाफ 199 रन बनाए थे। उन्होंने कुल 69 टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका का प्रतिनिधित्व किया।

 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »