18 May 2021, 22:41:01 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

अश्विन का शतक, भारत ने दिया 482 का लक्ष्य

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 15 2021 4:38PM | Updated Date: Feb 15 2021 4:39PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

चेन्नई। स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने पहली पारी में पांच विकेट लेने के बाद भारत की दूसरी पारी में शानदार शतक (106) जमाया जिसकी बदौलत भारत ने अपनी दूसरी पारी में 286 रन बनाए और इंग्लैंड के सामने दूसरे क्रिकेट टेस्ट में जीत के लिए 482 रन का असंभव सा लक्ष्य रख दिया। भारत ने पहली पारी में 329 रन बनाए थे जबकि इंग्लैंड की टीम 134 रन पर आउट हो गई थी। भारत को पहली पारी में 195 रन की विशाल बढ़त मिली थी। भारत ने अपनी दूसरी पारी में सोमवार को तीसरे दिन एक विकेट पर 54 रन से आगे खेलना शुरू किया और उसकी पारी 286 रन पर जाकर समाप्त हुई।
 
अश्विन ने शानदार बल्लेबाजी की और 233 मिनट क्रीज पर रह कर 148 गेंदों का सामना किया और अपने शतक में 14 चौके और एक छक्का लगाया। अश्विन के करियर का यह पांचवां शतक था। उनका इंग्लैंड के खिलाफ यह पहला शतक है। उनके बाकी चार शतक वेस्ट इंडीज के खिलाफ बने हैं। भारत ने सुबह अपनी पारी एक विकेट पर 54 रन से आगे बढ़ाई। रोहित शर्मा ने 25 और चेतेश्वर पुजारा ने सात रन से आगे खेलना शुरू किया। भारत को सुबह दूसरा झटका जल्द ही लग गया जब पुजारा अपने कल के स्कोर पर रन आउट हो गए। पुजारा गेंद को खेलने क्रीज से बाहर निकल आए थे और गेंद शार्ट लेग पर पहुंची जहां खड़े फील्डर ने तुरंत गेंद विकेटकीपर को दी जिन्होंने पुजारा को रन आउट कर दिया। भारत का दूसरा विकेट 55 के स्कोर पर गिरा।
 
भारत को इसी स्कोर पर सबसे बड़ा झटका लग गया जब पहली पारी के शतकधारी रोहित लेफ्टआर्म स्पिनर जैक लीच की गेंद पर स्टंप हो गए। पहली पारी में 161 रन बनाने वाले रोहित ने 70 गेंदों में दौ चौकों और एक छक्के की मदद से 26 रन बनाए। विकेटकीपर ऋषभ पंत को तेजी से रन बटोरने के लिए अजिंक्या रहाणे से ऊपर भेजा गया, लेकिन पंत 11 गेंदों में आठ रन बनाने के बाद लेफ्ट आर्म स्पिनर जैक लीच की गेंद पर स्टंप हो गए। भारत का चौथा विकेट 65 के स्कोर पर गिरा। भारत ने 10 रन के अंतराल में तीन विकेट गंवा दिए।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »