20 Jan 2022, 19:26:01 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Chhatisgarh

छत्तीसगढ़: झंडा विवाद के बाद आज बड़ी हिन्दू महासभा, RSS व BJP के दिग्गज होंगे शामिल

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 6 2021 2:57PM | Updated Date: Dec 6 2021 2:57PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

रायपुर। झंडा विवाद के बाद छत्तीसगढ़ विश्व हिन्दू परिषद द्वारा कवर्धा में हिन्दू शौर्य जागरण संकल्प महासभा का आयोजन सोमवार को किया गया है। इस महासभा में बड़े शक्ति प्रदर्शन की तैयारी है। महासभा में एक लाख से ज्यादा हिन्दुओं के आने का अनुमान है। भारतीय जनता पार्टी ने भी अपने सभी मंडलों में बैठक करके हर मंडल से एक जत्था भेजने का निर्णय लिया है। संकल्प महासभा में विहिप, आरएसएस, बजरंग दल के अलावा भाजपा के कई बड़े नेता शामिल होंगे। इधर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जिला प्रशासन व पुलिस की चिंता बढ़ गई है। रविवार को जिला प्रशासन ने रूटचार्ज भी जारी किया है। कवर्धा शहर के स्वामी करपात्रीजी स्टेडियम में होने वाले विश्व हिन्दू परिषद के शौर्य जागरण संकल्प महासभा की सभी तैयारियां हो गई है। एक अनुमान के मुताबिक इस आयोजन में कवर्धा सहित प्रदेशभर से एक लाख से ज्यादा हिन्दुओं के पहुंचने का अनुमान हैं। इसमें कई साधु-संतों के शामिल होने की बातें भी सामने आई है। आयोजन को लेकर विश्व हिन्दू परिषद के प्रांतीय कार्यकारी अध्यक्ष चंद्रशेखर वर्मा ने बताया कि हिन्दू शौर्य जागरण संकल्प महासभा की तैयारी हो गई है। वर्मा ने बताया कि आयोजन में महामंडलेश्वर स्वामी हरिहरानंद सरस्वती, आचार्य राजीव लोचन महाराज, राम बालकदास महात्यागी आदि संतों का उद्बोधन होगा। 
 
इस दौरान पूर्व CM डॉ रमन सिंह, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय, संगठन महामंत्री पवन साय, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल समेत कई बड़े नेता भी शामिल होंगे। महासभा के आयोजन को लेकर विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल तथा दूसरे हिन्दूवादी संगठनों द्वारा कई दिनों से तैयारी की जा रही थी। शहर के मुख्य मार्ग सहित सभा स्थल को केसरिया ध्वज से पटा दिया गया है। हिन्दू महासभा के आयोजन को लेकर पुलिस विभाग विशेष सतर्कता बरत रही है। दो माह पहले झंडा विवाद के बाद कवर्धा शहर कर्फ्यू लगाना पड़ा था। हिंसा की आग दो समुदायों के बीच फैल गई थी। ऐसे में फिर से शहर में शांति बनी रहे इसके लिए 3 बटालियन से कमांडेड, 9 जिलों के एडिशनल SP और 15 DSP समेत कुल 1 हजार से अधिक जवानों की ड्यूटी लगाई गई है। शहर समेत आसपास के पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी स्कूल- कॉलेज को एक दिन के लिए बंद करने का आदेश जारी किया गया है।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »