21 May 2022, 14:33:59 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

नैचुरल डायमंड काउंसिल की पहुंच हुयी 51 करोड़ लोगों तक

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 28 2022 5:24PM | Updated Date: Jan 28 2022 5:24PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। असली हीरों के बारे में लोगों को सटीक जानकारी पहुंचाने के अपने अभियान के तहत नैचुरल डायमंड काउंसिल (एनडीसी) अब तक 51 करोड़ लोगों तक पहुंच चुकी है। नैचुरल डायमंड काउंसिल में भारत और मध्‍य-पूर्व के लिये प्रबंध निदेशक ऋचा सिंह ने आज कहा कि ‘‘नैचुरल डायमंड काउंसिल इंडिया में हमारे लिये 2021 एक मानक वर्ष रहा है, जिसमें कई पहलें हुई हैं। कंटेन्‍ट के 220 पीसेस, कैम्‍पेन्‍स और भागीदारियों के जरिये मार्केटिंग की हमारी कोशिशें 51 करोड़ उपभोक्‍ताओं तक पहुँची हैं। यह केवल शुरूआत और 2021 के लिये हमारी कुछ पहलों की तेजी से ली गई तस्‍वीर है। मुझे आशा है कि 2022 हर किसी के लिये ज्‍यादा सफल वर्ष रहेगा, क्‍योंकि दुनिया खुल चुकी है और उपभोक्‍ता नैचुरल डायमंड को संजो रहे हैं, चाह रहे हैं और उसके सपने को जी रहे हैं।”
 
उन्होंने कहा कि हीरा उद्योग अपनी लोकोपकारी पहलों से दुनिया को बेहतर बनाने के लिये सक्रियता से काम कर रहा है। जेम एंड ज्‍वेलरी एक्‍सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (जीजेईपीसी) और द रिस्‍पॉन्सिबल ज्‍वेलरी काउंसिल (आरजेसी) के साथ भागीदारी में ‘थैंक यू, बाय द वे’ कैम्‍पेन एक पहल है, जो नैचुरल डायमंड की उन खरीदियों को सराहती है, जिनसे दुनियाभर में लाखों लोगों को फायदा होता है। यह कैम्‍पेन स्‍थायित्‍व के लिये इंडस्‍ट्री की दशकों से चली आ रही प्रतिबद्धता पर रोशनी डालता है, जिससे दुनियाभर में लोगों, समुदायों और पर्यावरण को फायदा हुआ है।
 
एनडीसी ने उपभोक्‍ताओं को ज्‍वेलरी की सांस्‍कृतिक प्रासंगिकता, कारीगरी और विरासत से लेकर आधुनिक हीरा उद्योग के सामाजिक-आर्थिक और पर्यावरणीय सकारात्‍मक प्रभाव तक पर शिक्षित करते हुए एक साल में ही काफी लंबा सफर तय किया है।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »