28 Jul 2021, 00:40:38 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

बंपर कमाई का मौका: आज खुले इन दो कंपनियों के IPO, कतार में खड़ी हैं दर्जन से अधिक कंपनियां

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 14 2021 3:52PM | Updated Date: Jun 14 2021 3:52PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) बाजार कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण पिछले दो महीने तक पूरी तरह सुस्त रहने के बाद धीरे-धीरे पटरी पर लौट रहा है। इसी कड़ी में बाजार की चार कंपनियां सामूहिक रूप से 9,123 करोड़ रुपये जुटाने के लिए इस सप्ताह अपना आईपीओ लाने जा रही हैं। इससे पहले आखिरी आईपीओ मैक्रोटेक डेवलपर्स (पहले लोढ़ा डेवलपर्स) का आया था, जो सात अप्रैल को खुलकर नौ अप्रैल को बंद हुआ था।

श्याम मेटालिक्स एंड एनर्जी लिमिटेड और सोना बीएलडब्ल्यू प्रिसिजन फोर्जिंग (सोना कॉमस्टार) के आईपीओ आज से खुल गए हैं। जबकि कृष्णा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज और डोडला डेयरी के आईपीओ बुधवार को खुलेंगे। आज से खुलें ये दो आईपीओ

श्याम मेटालिक्स एंड एनर्जी लिमिटेड- मेटल कंपनी श्याम मेटालिक्स एंड एनर्जी का इश्यू 14 जून को खुला और 16 जून को बंद होगा। कंपनी की 909 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। इसकी गवाही ग्रे मार्केट में कंपनी के शेयर्स की भारी मांग भी दे रहे हैं। कंपनी के इश्यू का प्राइस बैंड 303-306 रुपये है। आईपीओ के जरिए जुटाए गए 657 करोड़ रुपये का इस्तेमाल कंपनी अपनी और अपनी सहयोगी कंपनी एसएसपीएल का कर्ज उतारने में करेगी।

सोना बीएलडब्ल्यू प्रिसिजन फोर्जिंग (सोना कॉमस्टार)- ऑटो कलपुर्जे बनाने वाली कंपनी सोना कॉमस्टार ने 5,550 करोड़ रुपये के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के लिए बोली का दायरा 285-291 रुपये प्रति शेयर तय किया। कंपनी द्वारा दी जानकारी के मुताबिक आईपीओ 14 जून से 16 जून तक खुलेगा। एंकर निवेशकों के लिए बोली 11 जून को खुली थी। कुल 5,550 करोड़ रुपये के आईपीओ में 300 करोड़ रुपये का ताजा निर्गम है, जबकि ब्लैकस्टोन समूह से जुड़ी सिंगापुर सेवेन टॉपको थ्री प्राइवेट लिमिडेट द्वारा 5,250 करोड़ रुपये की बिक्री पेशकश की जाएगी।

एक दर्जन से अधिक कंपनियों ने की आईपीओ लाने की तैयारी

आने वाले दिनों में आईपीओ का बाजार काफी बड़ा रहने की उम्मीद है। वित्तीय प्रौद्योगिकी सहित करीब एक दर्जन वित्तीय सेवा कंपनियां चालू वित्त वर्ष के दौरान 55,000 करोड़ रुपये से अधिक के आईपीओ लाने की तैयारी कर रही हैं। एक दर्जन से अधिक बीमा, संपत्ति प्रबंधन, वाणिज्यिक बैंकिंग, गैर-बैंक, सूक्ष्म वित्त, आवास वित्त और भुगतान बैंक कंपनियों ने भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास आईपीओ के लिए दस्तावेज जमा कराए हैं। ऐसे में आगामी महीनों में आईपीओ बाजार में वित्तीय सेवा क्षेत्र का दबदबा रहने की उम्मीद है।

जिन कंपनियों ने सेबी के पास आईपीओ के लिए दस्तावेज जमा कराए हैं, उनमें आधार हाउसिंग फाइनेंस (7,500 करोड़ रुपये), पॉलिसी बाजार (4,000 करोड़ रुपये), एप्टस हाउसिंग फाइनेंस (3,000 करोड़ रुपये), स्टार हेल्थ इंश्योरेंस (2,000 करोड़ रुपये), आदित्य बिड़ला सन लाइफ एएमसी (1,500 से 2,000 करोड़ रुपये), आरोहण फाइनेंशियल सर्विसेज (1,800 करोड़ रुपये), फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस (1,700 करोड़ रुपये), फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक (1,330 करोड़ रुपये), तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक (1,000-1,300 करोड़ रुपये), मेदी एसिस्ट (840 करोड़ रुपये) ओर जन स्मॉल फाइनेंस बैंक (700 करोड़ रुपये) शामिल हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »