06 Jul 2020, 01:44:48 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business » Other Business

नीता अंबानी दुनिया की प्रमुख समाजसेवी हस्तियों की सूची में शामिल

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 21 2020 5:31PM | Updated Date: Jun 21 2020 5:31PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (कोविड-19) के बीच लोगों की जान बचाने के प्रयासों में जुटी नीता अंबानी और उनकी संस्था रिलायंस फाउंडेशन को विश्व के प्रमुख समाजसेवियों की सूची में शुमार किया गया है। अमेरीका की प्रतिष्ठित पत्रिका टाउन एंड कंट्री की वर्ष 2020 के लिए जारी इस सूची में अंबानी एकमात्र भारतीय समाजसेवी हैं। श्रीमती अंबानी को लाकडाउन के दौरान समाज के विभिन्न तबकों के लिए उनके राहत प्रयासों, गरीबों को भोजन और देश के पहले कोविड-19 अस्पताल जैसी समाज सेवाओं के लिए सूची में स्थान दिया गया है। टिम कुक, ओपरा विनफ्रे, लॉरेन पॉवेल जॉब्स, लॉडर फैमिली, डोनाटेला वर्साचे और माइकल ब्लूमबर्ग जैसे अन्य प्रमुख नाम भी सूची में शामिल हैं। 
 
अंबानी और फाउंडेशन के प्रयास को मान्यता देते  हुए पत्रिका ने कहा,‘‘रिलायंस फाउंडेशन- रिलायंस इंडस्ट्रीज की समाज सेवी संस्था है, जिसकी स्थापना नीता अंबानी ने की और वह इसकी चेयरपर्सन हैं। संस्था ने कोरोना के इस अति चुनौतीपूर्ण दौर में  फ्रंटलाइन श्रमिकों और गरीबों को लाखों भोजन और मास्क वितरित किए, भारत का कोविड-19 रोगियों के लिए पहला अस्पताल स्थापित किया और आपातकालीन राहत कोषों में सात करोड 20 लाख डालर का दान दिया।
 
सूची में शामिल किये जाने के अवसर पर रिलायंस फाउंडेशन की अध्यक्षा नीता अंबानी ने कहा - संकट के समय राहत के लिए संसाधनों के साथ सहानुभूति पूर्ण रवैये की भी नितांत आवश्यकता होती है। पिछले कुछ वर्षों में हमने संकट के समय अपने प्रयासों को प्रभावशाली बनाने के लिए फाउंडेशन और रिलायंस इंडस्ट्रीज में बहु-आयामी और व्यवस्थित प्रतिक्रियाओं को अपना कर खुद को सुसज्जित किया है। हम प्रसन्न और विनम्र हैं कि हमारी पहल को वैश्विक स्तर पर मान्यता दी जा रही है। जब भी जरूरत पड़ेगी हमारी संस्था, सरकार और समाज की सहायता को प्रतिबद्ध रहेगी। 
 
अंबानी के नेतृत्व में रिलायंस फाउंडेशन ने मुंबई में स्थानीय अधिकारियों के साथ मार्च के महीने में ही दो सप्ताह से भी कम समय में 100 बेड का कोविड-19 अस्पताल बनाने का काम किया। अप्रैल में बेड की संख्या बढ़ा कर  220 कर दी गई। रिलायंस फाउंडेशन ने अन्न सेवा नामक एक राष्ट्रव्यापी खाद्य सेवा शुरू की, जिसमें अब तक करीब पांच करोड़ लोगों को भोजन उपलब्ध कराया गया है। 
 
रिलायंस फाउंडेशन ने अपने बहु-आयामी प्रयासों को जारी रखते हुए ऑनलाइन चिकित्सा सहायता, मुंबई में कोविड रोगियों के लिए घर में क्वारेंटाइन सुविधा, ग्रामीण समुदायों को सहायता और देश भर में पालतू जानवरों, आवारा पशुओं के लिए स्वास्थ्य सेवा शामिल है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने  मास्क और पीपीई के निर्माण की भी शुरुआत की और महामारी के खिलाफ लड़ाई में इन महत्वपूर्ण वस्तुओं के उत्पादन में आत्मनिर्भरता हासिल करने में देश को योगदान दिया।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »