14 Jun 2021, 21:27:03 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

SBI के ग्राहकों के लिये बड़ी खबर, कोरोना संकट की वजह से हुए बड़े बदलाव

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 18 2021 5:46PM | Updated Date: May 18 2021 5:47PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। कोरोना वायरस संक्रमण से अपने ग्राहकों और कर्मचारियों के लिये जोखिम कम से कम रखते हुए कामकाज को सुचारू रूप से चलाने के लिये देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई ने कई कदम उठाये हैं। इन सभी कदमों का मुख्य उद्देश्य कामकाज के दौरान सोशल डिस्टेसिंग को ज्यादा से ज्यादा अमल में लाया जाये, वहीं ब्रांच में बेहद जरूरी काम ही निपटाये जायें। इस कड़ी में एसबीआई ने एक और अहम बदलाव किया है। ग्राहकों और कर्मचारियों के बीच गैरजरूरी संपर्क को खत्म करने के लिये बैंक ने शाखाओं के समय औऱ सेवाओं में अहम बदलाव किया है।

ब्रांच के लिये क्या है नया समय

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की शाखायें अब सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक ही खुलेंगी। साथ ही, शाखायें एक समय में सिर्फ 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ ही काम करेंगी। नये नियमों के तहत आधे कर्मचारी एक दिन शाखा आयेंगे वहीं बाकी के आधे कर्मचारी अगले दिन शाखा में आयेंगे। वहीं नए नोटिफिकेशन में साफ तौर से कहा गया है बैंक के प्रशासनिक कार्यालय 50 फीसदी स्टाफ सदस्यों के साथ पहले की तरह पूरे बैंकिंग कार्य अवधि में कार्यरत रहेंगे।

बैंक की ब्रांच में अब सिर्फ 4 काम

1) कैश जमा करना और निकालना

2) चेक से जुड़े काम

3) डीडी यानी डिमांड ड्राफ्ट/RTGS/NEFT से जुड़े काम

4) गवर्मेंट चालान

ब्रांच में पहुंचने वालों ग्राहकों के लिये नियम

बैंक शाखा में जाने वाले ग्राहकों को बिना मास्क एंट्री नहीं दी जाएगी। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बैंक ग्राहक बहुत जरूरी काम के लिए ही ब्रांच जाएं। और बेहतर होगा कि वो मोबाइल या इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें।

क्यों सख्त हुआ बैंक

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच महामाऱी से प्रभावित बैंक कर्मचारियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए बैंकों के संगठनों ने बैंक कर्मचारियों की सुरक्षा के लिये सेवाओं को सीमित करने का फैसला लिया है। इसके साथ ही सरकारों से बैंक संगठनों ने बैंक कर्मचारियों को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाने की भी मांग की है।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »