09 Aug 2020, 08:07:26 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Astrology » Religion

हाथ की यह रेखा बताती हैं कि आपके किस्मत में सरकारी नौकरी है या नहीं

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 16 2020 12:15AM | Updated Date: Jul 16 2020 12:15AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

ज्योतिष अनुसार हाथ की रेखाएं व्यक्ति की किस्मत और भाग्य के बारे में बताती हैं। जॉब सिक्‍यॉरिटी की वजह से आज ज्यादातर लोग सरकारी नौकरी पाना चाहते हैं। जिनमें से कुछ को तो कम प्रयासों में ही सरकारी नौकरी मिल जाती है लेकिन कइयों को इसके लिए लंबा सफर तय करना पड़ता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि आपको सरकारी नौकरी मिलेगी या नहीं, इसका राज आपकी हथेलियों में ही छिपा होता है। 

हथेली की तीन मुख्‍य रेखाएं हार्ट लाइन, हेड लाइन और लाइफ लाइन है। यदि इन रेखाओं को कोई और रेखा नहीं काट रही है या भाग्‍य रेखा शनि पर्वत की ओर से बृहस्‍पति पर्वत की ओर बढ़ रही है और सूर्य पर्वत पर सूर्य रेखा उभरी हुई है, तब व्‍यक्ति को प्रशासनिक पद मिलने की संभावना रहती है। यदि किसी व्‍यक्ति की भाग्‍य रेखा से निकलती हुई कोई रेखा बृहस्‍पति पर्वत की ओर जा रही हो और वह व्यक्ति सरकारी नौकरी के लिए प्रयासरत है तो उसे सफलता मिलने की संभावनाएं प्रबल होती हैं।

सरकारी नौकरी में कार्यरत व्‍यक्तियों के हाथ में एक कॉमन रेखा होती है वो है लाइफलाइन से निकलती हुई रेखा जो कि बृहस्‍पति पर्वत पर जाकर मिलती है और वो भी बिना किसी दूसरी रेखा को काटे हुए। यदि ऐसी ही रेखा आपकी हथेली में दिखे तो मान लें कि सरकारी नौकरी मिलने की ज्यादा संभावना है। यदि हाथ में मौजूद भाग्‍य रेखा बृहस्‍पति पर्वत की ओर घूमती हुई दिखाई दे रही है तो ऐसे व्‍यक्ति जीवन में ऊंचाईयों को छूते हैं। इसके अलावा यदि बृहस्‍पति पर्वत पर खड़ी रेखाएं हो तो ऐसे व्‍यक्ति को सरकारी नौकरी में अच्छा पद प्राप्त होता है।

जिस जातक की हथेली में सूर्य पर्वत उभरा है और इस पर्वत पर सीधी रेखा बिना किसी रूकावट के आ रही है तो ऐसे लोगों को भी सरकारी नौकरी मिलने की ज्यादा उम्मीद रहती है। हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार अगर बुध पर्वत पर कोई त्रिभुज की आकृति बनी है तो उस व्यक्ति को सरकारी नौकरी मिलने के अच्छे चांस रहते हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »